एक बार फिर भटक गई श्रमिक स्पेशल ट्रेन! जाना था बलिया पहुंच गई नागपुर

Share and Spread the love

रेलवे की लापरवाही की वजह से जल्द से जल्द घर पहुंचने को बेताब प्रवासी श्रमिकों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. ट्रैक पर दिशाहीन चल रही ट्रेनें अपने गंतव्य तक की दूरी को ही पूरा करने में चार दिनों का समय ले रही है. गोवा से यूपी के बलिया के लिए निकली श्रमिक स्पेशल ट्रेन नागपुर पहुंच गई. इस वजह से जो दूरी 28 घंटे में तय होनी थी. उसके लिए 72 घंटे लगे.
इसी तरह महाराष्ट्र के वसई से कामगारों को लेकर गोरखपुर के लिए निकली ट्रेन ओडिशा के राउरकेला पहुंच गई. ऐसा ही हाल कई अन्य ट्रेनों का भी रहा. गुरुवार को गोवा से यूपी के बलिया के लिए निकली श्रमिक स्पेशल ट्रेन चली, लेकिन ट्रैफिक जाम और गलत सिग्नल की वजह से वह नागपुर पहुंच गई. 72 घंटे बाद ये ट्रेन रविवार को बलिया पहुंची.

गौरतलब है कि गोवा से बलिया की दूरी 2245 किलोमीटर है. इस सफर में 28 घंटे का समय लगता है. लेकिन लगातार दिशाहीन होकर ट्रैक पर भटक रही ट्रेनों की वजह से मजदूरों व कामगारों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. श्रमिकों ने बताया कि खाने की तो बात छोड़ ही दीजिए, रास्ते में एक-एक बूंद पानी के लिए तरसना पड़ रहा था.
हर राज्यों से पूर्वी यूपी और बिहार के लिए चल रही स्पेशल ट्रेनों की वजह से ट्रैक पर ट्रैफिक ज्यादा है, वसई से गोरखपुर के लिए चली ट्रेन राउरकेला पहुंच गई थी.
The post एक बार फिर भटक गई श्रमिक स्पेशल ट्रेन! जाना था बलिया पहुंच गई नागपुर appeared first on AKHBAAR TIMES.