चेतन भगत ने कहा- हम नहीं बोलेंगे तो देश कैसे बदलेगा, चमचागिरी से क्या बदलाव आएगा

Share and Spread the love

देश के जाने माने लेखक चेतन भगत अक्सर सामाजिक मुद्दों पर खुलकर अपनी राय रखते रहते हैं. कई बार ट्वीटर पर अपने ट्वीट को लेकर वह ट्रोल भी हो जाते हैं. उनका कहना है कि सोशल मीडिया पर अपनी सोच को रखने के बाद लोग लिखने वाले को निशाना बना लेते हैं.
उन्होंने कहा कि जो लोग ख़राब बोल रहे होते हैं वो अच्छे को नहीं सुनते और अच्छाई करने वाले बुराई करने वाले को नहीं सुनते. चेतन भगत आज तक के एक कार्यक्रम में बोल रहे थे, जहां उन्होंने ये बातें कहीं.
एक उदहारण देते हुए लेखक चेतन भगत ने कहा कि अगर आप मोदी को पसंद करते हैं तो आपको उनकी तीन खामियां पता होनी चाहिए. अगर मोदी को बुरा मानते हैं तो उनकी तीन अच्छी बातें भी पता होनी चाहिए. तब मैं मानूंगा कि आपको राजनीति के बारे में पता है. अच्छा बुरा हम सबमें होता है.
इस पर उनसे सवाल किया गया कि मोदी में 3 खामिया कौन सी लगती है. जिसके जवाब में लेखक ने कहा कि मैं बता सकता हूं इसमें कोई हिचकने वाली बात नहीं है. देश में मोदी की केंद्रीयकृत कमांड है. उन्हें कोई सुझाव नहीं देता. कोई उनसे अलग नहीं सोचता.
वह आगे कहते हैं कि मैं मानता हूं कि एक ही आदमी पर देशभर की जिम्मेदारी नहीं होनी चाहिए. चीजें बंटी होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि सरकार को प्रेस कांफ्रेंस करनी चाहिए. अब कुछ छुपाने को नहीं है. गलती को ठीक करना चाहिए.
वह आगे कमियों पर बोलते हुए कहते हैं कि मोदी ने इकॉनमी पर ध्यान नहीं दिया. जीडीपी के लिए उन्होंने नीतियां बनाई लेकिन उनसे कुछ नहीं हुआ. जीडीपी ऊपर नहीं गया. इसका खामियाजा हम आज भुगत रहे हैं. दुनिया का हाल बुरा है इस वक्त लेकिन हम उनसे ज्यादा बुरे हाल में हैं. हम नहीं बोलेंगे तो देश कैसे बदेलगा. चमचागिरी से क्या ही बदलाव आएगा.
The post चेतन भगत ने कहा- हम नहीं बोलेंगे तो देश कैसे बदलेगा, चमचागिरी से क्या बदलाव आएगा appeared first on AKHBAAR TIMES.