बोले अखिलेश, जहां अर्थव्यवस्था चौपट हो रही है वहां जश्न का क्या मतलब है?

Share and Spread the love

केंद्र की मोदी सरकार पार्ट 2 का एक साल पूरा हो गया है. आज से एक साल पहले पीएम मोदी प्रचंड जीत के साथ दोबारा देश के प्रधानमंत्री पद पर बैठे. इसी के साथ वो लगातार 6 साल से पीएम के पद पर हैं. आज भाजपा इसी का जश्न मनाकर वर्चुअल रैलियां कर रही है.
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बीजेपी के जश्न पर तंज कसते हुए कहा कि जहां अर्थव्यवस्था चौपट हो रही हो वहां जश्न कैसा. उन्होंने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था पहले से ही डावांडोल थी अब तो भरभरा कर गिर रही है. किसान परेशान हैं, गेहूं खरीद में बड़े पैमाने पर लूट हुई है, गन्ना किसानों का भुगतान नहीं हो रहा.

अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार के पास 70 हजार बसें होने के बावजूद मजदूरों को पैदल चलने पर मजबूर किया गया. जनता सब देख रही है. समय आने पर जवाब देगी. अखिलेश ने कहा कि लॉकडाउन में गरीबों को घर किस तरह पहुंचाया जाए इसकी कोई व्यवस्था नहीं की गई. किसान, गरीब, मजदूर सब परेशान हैं मगर सरकार बड़े उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने में जुटी है.
अखिलेश यादव ने कहा कि योगी सरकार सच बोलने और सच लिखने वालों को जेल भेज रही है, गरीबों की मदद करने वालों पर मुकदमें दर्ज किए जा रहे हैं. इस सरकार ने विकास का कोई भी काम नहीं किया. सपा सरकार के समय बने अस्पतालों का निरीक्षण किया जा रहा है, मगर इनकी सरकार में बने अस्पताल कहां है इसका कुछ पता नहीं है.
The post बोले अखिलेश, जहां अर्थव्यवस्था चौपट हो रही है वहां जश्न का क्या मतलब है? appeared first on AKHBAAR TIMES.