छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बघेल ने केंद्र पर साधा निशाना, इस फैसले को बताया हास्यास्पद

Share and Spread the love

कोरोना वायरस की वजह से हुए लॉकडाउन के चलते दूसरे राज्यों में कमाने के उद्येश्य से गए मजदूर फंसकर रह गए. इनकी वापसी के लिए राज्य सरकारें प्रयास कर रही हैं. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का कहना है कि मजदूरों के लिए ट्रेन चलाने के लिए केंद्र सरकार को राज्यों से पैदा नहीं लेना चाहिए. ये हास्यापद है. केंद्र को इसमें सहायता देनी चाहिए.
भूपेश बघेल ने कहा कि बेहतर रोजी के लिए लोग बाहर जाते हैं. यहाँ से कई राज्यों में मजदूर जाते हैं. आने के लिए हमने केंद्र से ट्रेन के लिए बात की थी. कोटा में फंसे राज्य के छात्र बस से आए. उन्हें दो दिन का समय लगा और कठिनाई हुई.
उन्होंने कहा कि हमने ट्रेन चलाने की अपील की थी. ट्रेन भारत सरकार की है और मजदूरों के लिए राज्य सरकार से केंद्र पैसा ले ये गलत है. केंद्र को इसमें सहायता देनी चाहिए.
गौरतलब है कि कोटा में फंसे छात्रों की वापसी के लिए बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी केंद्र सरकार से स्पेशल ट्रेन चलाने की मांग कर चुके हैं. अब ऐसा बताया जा रहा है कि दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों, छात्रों और अन्य लोगों के लिए 7 स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं. इनके जरिए हजारों लोगों की घर वापसी हो रही है.
The post छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बघेल ने केंद्र पर साधा निशाना, इस फैसले को बताया हास्यास्पद appeared first on AKHBAAR TIMES.