कानपुर की डॉक्टर चंदानी को जमातियों पर टिप्पणी पड़ी महंगी, हुआ तबादला, यहां मिली तैनाती

Share and Spread the love

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले स्थित जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज की प्राचार्य डॉक्टर आरती लाल चंदानी का कथित वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होने के बाद उनपर आज गाज गिर गई. शासन ने उनका तबादला कर दिया. इस वीडियों में वो तबलीगी जमात और मुस्लिम समुदाय के खिलाफ जमकर जहर उगल रही हैं.
ये वीडियो कुछ दिनों पुराना है जो चुपके से बनाया गया था, मगर वायरल अब हुआ है. इसमें वो कह रही हैं कि तबलीगी जमात से जुडे लोगों को अस्पताल के बजाए जंगल में भेज देना चाहिए. इनकी वजह से देश में आर्थिक आपातकाल के हालात बन गए हैं.

वीडियो वायरल होने के बाद आरती लाल चंदानी सफाई देकर कह रही हैं कि ये वीडियो ठीक नहीं है, इसके पीछे साजिश है. मामला बढ़ा तो इसकी गूंज राजनीतिक गलियारों में पहुंच गई. समाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इसी मुद्दे पर ट्वीट करते हुए सरकार से पूछा था कि क्या कोई कार्रवाई होगी?
मामले की गूंज शासन स्तर तक पहुंची तो योगी सरकार ने जांच रिपोर्ट तलब कर ली. आज उनका तबादला कानपुर से झांसी कर दिया गया है. डॉक्टर आरती लाल चंदानी इससे पहले भी जमातियों पर गंभीर आरोप लगा चुकी हैं.
The post कानपुर की डॉक्टर चंदानी को जमातियों पर टिप्पणी पड़ी महंगी, हुआ तबादला, यहां मिली तैनाती appeared first on AKHBAAR TIMES.