सोनू सूद की बहन ने जो कहानी उनकी बताई वह दिल को छू जाएगी, बताया क्यों कर रहे मदद

Share and Spread the love

कोरोना की वजह से हुए लॉकडाउन में प्रवासी मजदूरों के सामने अपना जीवन चलाने का संकट आ गया. जिससे वह वापस अपने घरों की ओर निकल पड़े. प्रवासी मजदूरों के लिए बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद मसीहा बनकर आए. पैदल जा रहे श्रमिकों को सोनू सूद से देखा नहीं गया और उन्होंने मदद करने का फैसला लिया.
सोनू सूद अब तक बड़ी संख्या में लोगों को उनके घर पहुंचा चुके हैं. जो भी उनसे मदद मांग रहा वह बस का इंतजाम कर उन्हें उनके घर भेज रहे हैं. सोनू की इस दरियादिली ने हर किसी के दिल को छुआ है.
बहन ने बताया सोनू को मालूम है मजदूरों का दर्द
सोनू सूद के माता पिता अब इस संसार में नहीं हैं. उनकी बहन है. जिन्होंने बताया कि करियर बनाने के लिए सोनू सूद ने किस तरह संघर्ष किया. बहन मल्विका सूद ने बताया कि जब मेरा भाई नागपुर में इंजीनियरिंग का छात्र था, वह ट्रेन के कम्पार्टमेंट में टॉयलेट के पास छोटी सी खाली जगह में सोकर घर आता था.
मेरे पिता उसे पैसे भेजते थे, लेकिन उसकी कोशिश होती थी कि जितना बचा सकता था बचा ले. वह हमारे पिता की कड़ी मेहनत का बड़ा कद्र करता था. जब वह मुंबई में मॉडलिंग की करियर के लिए संघर्ष कर रहा था, ऐसे कमरे में रहता था, जहां सोने के दौरान करवट बदलने की जगह नहीं थी. करवट बदलने के लिए उसे खड़ा होना पड़ता था. वहां जगह ही नहीं थी.
हालांकि इन परेशानियों की भनक सोनू सूद अपने परिवार वालों को नहीं लगने देते थे. ऐसा नहीं था कि उन्हें पिता पैसे नहीं दे सकते थे. उन्होंने बताया कि जब उसकी पहली मूवी रिलीज हुई और वो घर आया और कहा आज मैं सीट पे बैठके आया हूं बड़ा अच्छा लग रहा है. जिसके बाद उसने बताया कि वह ट्रेन में अक्सर पेपर के शीट पर बैठकर ट्रेवल करता है.
The post सोनू सूद की बहन ने जो कहानी उनकी बताई वह दिल को छू जाएगी, बताया क्यों कर रहे मदद appeared first on AKHBAAR TIMES.