रेलवे ने कहा, यात्रियों से पैसे लेकर हमारे पास जमा कराए राज्य सरकार

Share and Spread the love

कोरोना वायरस की वजह से देशभर में हुए लॉकडाउन के चलते प्रवासी मजदूर देश के अलग-अलग राज्यों में फंस कर रह गए. प्रवासी मजदूरों, छात्रों, पर्यटकों और तीर्थ यात्रियों को उनके गृह राज्य तक पहुंचाने के लिए रेलवे ने श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने का फैसला किया. इसके संचालन को लेकर भारतीय रेल ने दिशानिर्देश जारी किए हैं. रेलवे की ओर से जारी की गयी गाइडलाइन्स में यात्रियों से टिकट की कीमत वसूल करने से जुड़े निर्देश दिए गए हैं.
इन दिशानिर्देशों के एक पॉइंट में रेलवे ने कहा है कि रेलवे द्वारा गंतव्य के लिए प्रिंट किए गए टिकट राज्यों द्वारा की गयी संख्या के आधार पर किए गए हैं जो ट्रेन की क्षमता यानी 1200 यात्री हैं. राज्य प्रशासन यात्रियों को रेलवे टिकट सौंपेगा और उनसे किराया लेकर कुल राशि रेलवे में जमा कराएगा.
रेलवे की ओर से ये भी स्पष्ट तौर पर कहा गया कि इन ट्रेनों में लॉकडाउन की वजह से फंसे उन्ही लोगों को ले जाया जा रहा है जिन्हें राज्य सरकारों ने अधिकृत किया है.
रेलवे ने कहा कि रेलवे सिर्फ राज्य सरकारों द्वारा लाए गए यात्रियों को स्वीकार कर रहा है. किसी अन्य समूह या व्यक्ति को स्टेशन नहीं आना है. कुछ ही ट्रेनों का संचालन राज्य सरकारों के अनुरोध पर हो रहा है और अन्य सभी यात्री गाडियां और उपनगरीय रेल सेवाएं बंद हैं.
The post रेलवे ने कहा, यात्रियों से पैसे लेकर हमारे पास जमा कराए राज्य सरकार appeared first on AKHBAAR TIMES.