MP- बसपा के कई बड़े नेताओं ने थामा कांग्रेस का दामन, उपचुनाव में बीजेपी की बढ़ सकती हैं मुश्किलें

Share and Spread the love

IMAGE CREDIT-SOCIAL MEDIAमध्यप्रदेश की 2 सीटों पर होने वाले विधानसभा उपचुनाव को लेकर सूबे की सियासत में राजनीति तेज हो गई है. इसी के चलते एक दल से दूसरे दलों में जाने वालों का भी सिलसिला तेज हो गया है. ग्वालियर इलाके में ब्राह्मण चेहरा बालेंद्र शुक्ला के बीजेपी से कांग्रेस में आने के बाद अब एससी एसटी वोट पर कांग्रेस पार्टी की पैनी नजर है.
इसी कारण इस वोट बैंक में भी कांग्रेस ने सेंधमारी शुरु कर दी है. 2018 के विधानसभा चुनाव में बीएसपी के टिकट पर चुनाव लड़े प्रागी लाल जाटव आज कांग्रेस में शामिल हैं, इसी के साथ ग्वालियर क्षेत्र के कई बसाप नेताओं ने कांग्रेस की सदस्यता को ग्रहण किया.
डबरा नगरपालिका की पूर्व अध्यक्ष सत्यप्रकाशी भी बसपा कार्यकर्ताओं के साथ कांग्रेस में शामिल हो गई. 2018 के चुनावों में प्रागी लाल जाटव तीसरे नंबर पर रहे थे, करेरा समेत ग्वालियर के कई विधानसभा सीटों पर जाटव वोट बैंक चुनाव में निर्णय की भूमिका में रहते हैं.
image credit-social mediaऐसे में कांग्रेस ने जाटव वोट बैंक को साधने की कोशिश में प्रागी लाल जाटव को ही शामिल कर लिया है. प्रदेश कांग्रेस दफ्तर में कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत, पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, एमपी प्रजापति और पीसी शर्मा की मौजूदगी में प्रागी लाल जाटव, सत्य प्रकाशी समेत कई बसपा कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली है.
गौरतलब है कि ग्वालियर चंबल इलाके की 16 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होना है. उसमें करेरा विधानसभा सीट पर कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए जसवंत जाटव को बीजेपी संभावित उम्मीदवार के रुप में उतार सकते हैं, ऐसे में कांग्रेस ने प्रागी लाल जाटव को अपने खेमे में शामिल कर बीजेपी की मुश्किलों में इजाफा कर दिया है.
जबकि डबरा विधानसभा सीट से इमरती देवी के संभावित प्रत्याशी के रुप में देखा जा रहा है, वहां से कांग्रेस सत्यप्रकाशी को टिकट देकर समीकरण बिगाड़ सकती है.
The post MP- बसपा के कई बड़े नेताओं ने थामा कांग्रेस का दामन, उपचुनाव में बीजेपी की बढ़ सकती हैं मुश्किलें appeared first on AKHBAAR TIMES.