बलिया के दर्जनों गांवों का अस्तित्व बचाने के लिए युवा चेतना ने निकाला पैदल मार्च, उठाई ये मांग

Share and Spread the love

युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह ने बलिया के दर्जनों गांवों का अस्तित्व बचाने के लिए अभियान छेड़ रखा है. इसी के तहत आज उन्होंने बांध निर्माण की मांग उठाते हुए बलिया के मालदेपुर घाट से मालदेपुर मोड़ तक पैदल मार्च निकाला.
इस मौके पर मीडिया से बातचीत करते हुए रोहित सिंह ने कहा कि 1 मई 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हैबतपुर गाँव से उज्ज्वला गैस योजना की शुरूआत की और इस योजना को लेकर भारत सहित विश्व में प्रचार किया गया परंतु उज्ज्वला योजना की जन्मभूमि हैबतपुर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूल गए.
उन्होंने कहा की युवा चेतना विकास की लड़ाई पूरी ताकत के साथ लड़ रही है और आगे भी लड़ेगी. रोहित ने कहा कि बैरिया में बांध निर्माण का कार्य शुरू हो गया परंतु अब तक उज्ज्वला योजना की जन्मभूमि को बचाने हेतु सरकार तत्पर नहीं दिख रही है.

रोहित ने कहा कि हमने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र के माध्यम से आग्रह भी किया फिर भी सरकार नहीं जागी. अगर तत्काल बांध निर्माण नहीं शुरू हुआ तो फिर हैबतपुर गाँव सहित 1 दर्जन भर गाँव एवं बलिया शहर का अस्तित्व ख़त्म हो सकता है.
रोहित ने कहा कि मानसून सर पर है पर योगी सरकार कुंभकर्णी नींद में सोई है. उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बांध निर्माण कार्य शुरू कराने का माँग की है.
The post बलिया के दर्जनों गांवों का अस्तित्व बचाने के लिए युवा चेतना ने निकाला पैदल मार्च, उठाई ये मांग appeared first on AKHBAAR TIMES.