भाजपा सरकार के पास न रोजगार है न राशन, है तो सिर्फ भाषणः अखिलेश यादव

Share and Spread the love

समाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक बार फिर प्रदेश की योगी सरकार पर जोरदार तरीके से निशाना साधते हुए कहा कि यूपी अव्यवस्था और अराजकता के गंभीर संकट से गुजर रहा है. शासन-प्रशासन में समन्वय की कमी है, पुलिस जनता को धमकाने और वसूली में लगी है.
अखिलेश ने कहा कि भाजपा सरकार विरोधी दलों के नेताओं को झूठे मुकदमों में फंसाने को ही अपनी सबसे बड़ी उपलब्धि मान रही है. सरकार श्रमिकों, किसानों और नौजवानों को सता रही है. न रोजगार है न राशन सरकार के पास है तो सिर्फ भाषण.

उन्होंने कहा कि दूसरे प्रदेशों से आए श्रमिक अब अपने को ठगा महसूस कर रहे हैं. उनके सामने माया मिली न राम वाली स्थिति है. नौजवानों को रोजगार के आंकड़े दिखाकर भ्रमित किया जा रहा है. उनको अपने भविष्य में अंधेरे के अलावा कुछ और नहीं दिख रहा है. बैंक नए उद्योग लगाने के लिए कर्ज देने में आनाकानी कर रहे हैं.
सपा मुखिया ने कहा कि उत्तर प्रदेश में किसानों के विरूद्ध अपराधिक झूठे मुकदमें दर्ज किए जा रहे हैं. किसानों की दशा लगातार खराब होती जा रही है. कृषि उपकरण, खाद, बीज, कीटनाशक, डीजल, बिजली सभी तो मंहगे है. उस पर बैंक अपने कर्ज की अदायगी के लिए किसानों और दूसरे कर्जदारों पर दबाव बना रहे हैं.

अखिलेश ने कहा कि गांव-गरीब दोनों की समाप्ति से ही भाजपा की पूंजीघरानों के हित की राजनीति चमकाने की योजना है. राज्य में अपराधिक घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है. ऐसे में पुलिस प्रशासन की भूमिका संदेह के घेरे में है. जैसे कोरोना भाजपा के हाथ नहीं आ सका वैसे कानून-व्यवस्था भी भाजपा सरकार के नियंत्रण से निकल गयी है. कानून-व्यवस्था के मोर्चे पर भाजपा सरकार पूरी तरह विफल हो चुकी है. अपराधिक घटनाएं जब होती हैं पुलिस तब कहां होती है?
The post भाजपा सरकार के पास न रोजगार है न राशन, है तो सिर्फ भाषणः अखिलेश यादव appeared first on AKHBAAR TIMES.