पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर सपाईयों का फूटा गुस्सा, कुछ इस अंदाज में जताया विरोध

Share and Spread the love

पेट्रोल और डीजल की लगातार बढ़ रही कीमतों के खिलाफ आज समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं का गुस्सा फूट पड़ा. तेल के दामों के वृद्धि के खिलाफ कहीं सपा नेताओं ने थाली बजाई तो कहीं पर तांगे की सवारी कर विरोध जताया गया. उनका कहना है कि सरकार जनता को राहत देने के बजाए उन्हें लूटने पर तुली हुई है. कानपुर में सपा नेता अभिमन्यु गुप्ता के नेतृत्व में सपाईयों ने गांधी वादी अंदाज में थाली बजाकर विरोध किया.
सपा व्यापार सभा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष और प्रांतीय व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता ने कहा कि लाकडाउन के दौरान भाजपा सरकार ने थाली बजाने की अपील की थी इसलिये हम भी थाली बजाकर भाजपा सरकार की संवेदनहीनता व विफलता को उजागर कर रहे हैं और सरकार के कानों तक आवाज़ पहुंचा रहे हैं कि जनता त्राहि त्राहि कर रही है.

अभिमन्यु गुप्ता ने कहा कि लॉकडाउन में जहां व्यापारी, दुकानदार, किसान, मज़दूर, नौकरीपेशा आमदनीं के लिए परेशान रहे तो अब लॉकडाउन खोलते ही पेट्रोल डीजल की कीमतें बढ़ाकर भाजपा सरकार ने साबित कर दिया है कि उसके राज में कोरोना के अलावा आम जनता को महंगाई के वायरस का ज़हर भी झेलना पड़ेगा.
उन्होंने कहा कि जब लॉकडाउन के दौरान अंतराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें न्यूनतम पहुंच गई थीं तब भी मोदी सरकार ने देश की 130 करोड़ जनता को कीमतों में कोई राहत नहीं दी थी.

अभिमन्यु गुप्ता ने कहा कि आज 14 जून को लगातार 8वे दिन भी पेट्रोल के दाम 62 पैसे और डीजल के दाम 64 पैसे प्रति लीटर बढ़ाए गए हैं. अनलॉक 1 में इस हफ्ते ही पेट्रोल की कीमत 4 रुपये व डीज़ल की कीमत 4 रुपये 10 पैसे तक बढ़ा दी गई है.
इसके अलावा सोनभद्र में सपा नेता और पूर्व जिला सचिव प्रमोद यादव ने भी पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ तांगे पर बैठकर प्रदर्शन किया. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार लगातार पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस की कीमतों को बढ़ाकर जनता को लूट रही है. उसे गरीब और मध्यम वर्ग की चिंता ही नहीं है. प्रमोद यादव ने कहा कि ये सूट बूट की सरकार है. आम जनता से इनका कोई सरोकार नहीं है.
The post पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर सपाईयों का फूटा गुस्सा, कुछ इस अंदाज में जताया विरोध appeared first on AKHBAAR TIMES.