BBCI की दो टूक, कहा नहीं करेंगे चीनी कंपनी का बहिष्कार, VIVO बना रहेगा IPL का प्रायोजक

Share and Spread the love

भारत-चीन सीमा पर दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुई झड़प में 20 भारतीय जवानों की शहादत के बाद पूरा देश में चीन के खिलाफ गुस्सा फूट पड़ा. चीन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए और चीनी सामानों की होली जलाई जाने लगी. हर कोई ये मांग कर रहा है कि चीनी उत्पादों का बहिष्कार किया जाए.
पीएम मोदी ने भी कहा कि भारत के वीर जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा. भारत-चीन संबंधों को नए सिरे से विचार करने की बातें होने लगी. इसी बीच भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने ये साफ कर दिया है कि वो आईपीएल में अपने प्रमुख प्रायोजक वीवो का बहिष्कार नहीं करेगा.

बीसीसीआई कोषाध्यक्ष अरूण धूमल ने कहा कि आईपीएल टूर्नामेंट में चीनी मोबाइल कंपनी वावो को प्रायोजक बनाए रखा जाएगा. पीटीआई से बात करते हुए धूमल ने कहा कि जब आप भवनात्मक बातें करते हैं तो तर्क को छोड़ देते हैं. उन्होंने कहा कि हमें चीन के उत्पाद की मदद चीन के फायदे के लिए और चीन की कंपनी से भारत के फायदे के मिल रही मदद के अंतर को समझना होगा.
धूमल ने कहा कि जब आप चीन के बने उत्पाद को भारत में बेचने की अनुमति देते हैं तो वो भारतीयों से पैसे कमाते हैं. उसी पैसे का एक हिस्सा वो हमें प्रायोजक बनने के लिए देते हैं. इसपर भारत सरकार को 42 प्रतिशत टैक्स मिलता है.
The post BBCI की दो टूक, कहा नहीं करेंगे चीनी कंपनी का बहिष्कार, VIVO बना रहेगा IPL का प्रायोजक appeared first on AKHBAAR TIMES.