अखिलेश ने फिर उठाया सवाल, कहा सरकार बताए कि गलवान घाटी भारत का हिस्सा है या नहीं?

Share and Spread the love

भारत और चीन के बीच चल रहे गतिरोध पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से बुलाई गई सर्वदलीय बैठक के बाद दिए गए बयान पर विपक्षी दल सवाल उठाने लगे हैं. सपा मुखिया अखिलेश यादव ने भी एक के बाद एक सरकार से कई सवाल पूछे हैं.
अखिलेश ने कहा कि पूरा देश चीनी घुसपैट के खिलाफ सरकार के साथ खड़ा है. लेकिन वो क्या घटना थी जिसमें हमारे सैनिक शहीद हो गए? यदि नहीं तो विदेश मंत्रालय ने यथास्थिती क्यों पूछी? गलवान घाटी भारत का हिस्सा है या नहीं? उन्होंने कहा कि हमें स्पष्टीकरण की आवश्यकता है, हमें सच्चाई जानने की जरूरत है.

इससे पहले अखिलेश यादव ने पूछा था कि प्रधानमंत्री जी के भारत-चीन एलएसी कथन से भ्रमित होकर जनता पूछ रही है कि यदि चीन हमारे इलाक़े में नहीं घुसा तो फिर हमारे सैनिक किन हालातों में शहीद हुए और क्या इस कथन से चीन को ‘क्लीन चिट‘ दी जा रही है.
उन्होंने कहा था कि  आज पूरा देश व हर दल, चीन और एलएसी पर प्रधानमंत्री जी के इस कथन के साथ पूरे विश्वास के साथ खड़ा है कि “न कोई हमारे इलाके में घुसा है और न ही किसी पोस्ट पर कब्ज़ा किया है.” अब सरकार को ये सुनिश्चित करना होगा कि देश की सीमाओं के साथ ही जनता के इस विश्वास की भी शत-प्रतिशत रक्षा हो.

The nation stands with the govt against Chinese incursions.
But was the incident in which our soldiers were martyred an incursion? If not then why did MEA ask for status quo ante? Is the Galwan Valley Indian or not?
We do not need clarifications.
We need the truth.
— Akhilesh Yadav (@yadavakhilesh) June 20, 2020

The post अखिलेश ने फिर उठाया सवाल, कहा सरकार बताए कि गलवान घाटी भारत का हिस्सा है या नहीं? appeared first on AKHBAAR TIMES.