शेल्टर होम मामले में राजनीति हुई तेज, अखिलेश ने कहा सरकार, शारीरिक शोषण करने वालों के खिलाफ..

Share and Spread the love

कानपुर के स्वरुप नगर के बालिका संरक्षण गृह में 7 नाबालिग लड़कियों के प्रेंग्नेंट की पुष्टि होने के बाद से शासन और प्रशासन दोनों में ही खलबली मची हुई है. जहां एक ओर प्रशासन में हड़कंप की स्थिति है तो दूसरी ओर इस मामले पर सियासत भी शुरु हो चुकी है. मामले में जिला प्रशासन का कहना है कि ये सभी गर्भवती लड़कियां यहां पर लाये जाने से पहले से ही प्रेग्नेंट थी.
गौरतलब है कि दब कोरोना की आंच संरक्षण गृह में पहुंची तो वहां पर रहने वाली 57 लड़किया कोरोना संक्रमित निकली. जिनमें से 7 गर्भवती है. प्रेग्नेंट युवतियों में से 5 में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है. जानकारी के मुताबिक प्रेग्नेंट लड़कियों में से एक किशोरी को आठ माह और दूसरी को साढ़े आठ माह का गर्भ है.

इस पर दोनों को हैलट के जज्जा बच्चा अस्पताल में रिफर कर दिया है. जांच में एक एचआईवी संक्रमित मिली है तो दूसरी को हेपेटाइटिस सी का संक्रमण बताया जा रहा है. इसके चलते उन्हें विशेष निगरानी में रखा गया है.
वहीं एसएसपी दिनेश कुमार ने बताया कि सभी बालिकाएं संरक्षण गृह में लाए जाने के वक्त ही गर्भ से थी. पांच संक्रमित संवासिनी आगरा, एटा, कन्नौज, फिरोजाबाद और कानपुर के बाल कल्याण समिति से संदर्भित करने के बाद यहां रह रही थी. एसएसपी दिनेश कुमार का कहना है कि पाक्सो एक्ट के तहत एक किशोरी कन्नौज और दूसरी आगरा से कानपुर आई है, कहा कि ये दोनों रेस्कयू के समय ही गर्भवती थी.

अब इस मामले में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सरकार को घेरा है और कहा कि कानपुर के सरकारी बाल संरक्षण गृह से आई ख़बर से उप्र में आक्रोश फैल गया है. कुछ नाबालिग लड़कियों के गर्भवती होने का गंभीर खुलासा हुआ है. इनमें 57 कोरोना से व एक एड्स से भी ग्रसित पाई गयी है, इनका तत्काल इलाज हो. सरकार शारीरिक शोषण करनेवालों के ख़िलाफ़ तुरंत जाँच बैठाए.
The post शेल्टर होम मामले में राजनीति हुई तेज, अखिलेश ने कहा सरकार, शारीरिक शोषण करने वालों के खिलाफ.. appeared first on AKHBAAR TIMES.