प्रशांत किशोर का बड़ा आरोप, कहा चुनाव में बाधा न आए इसलिए बिहार में नहीं हो रही कोरोना जांच

Share and Spread the love

बिहार विधानसभा चुनाव में भले ही अभी समय हो मगर वहां का सियासी पारा अभी से चढ़ने लगा है. बिहार के चुनाव आयोग और राजनीतिक दलों नें चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी हैं. वहां राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो चला है.
पूर्व जेडीयू उपाध्यक्ष और दिग्गज चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर लगातार बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार पर निशाना साधते रहते हैं. इस बार प्रशांत किशोर ने कोरोना जांच को लेकर सवाल उठाए हैं.
अपने ट्वीट में उन्होंने कहा कि कोरोना की वजह से चुनाव और उसकी तैयारियों में कोई बाधा न आए इसलिए मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने तय कर लिया है कि बिहार में कोरोना की जांच की रफ्तार को नहीं बढ़ाएंगे.

उन्होंने कहा कि बिहार में देश के अन्य राज्यों की अपेक्षा कम टेस्टिंग हो रही है. कोरोना से संक्रमित लोगों के पता न चलने या उसमें देरी के भयावह परिणाम हो सकते हैं.
बता दें कि बिहार में अब तक कुल एक लाख 81 हजार 737 कोरोना टेस्ट किए गए हैं. वहां अब तक कोरोना के 8473 मामले सामने आए हैं जिनमें से 1975 लोग ठीक हो चुके हैं जबकि 57 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा है.
भारत में कोरोना के 4 लाख 90 हजार 401 मामले सामने आ चुके हैं. इनमें से 2 लाख 85 हजार 637 लोग ठीक भी हो चुके हैं. कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र है. उसके बाद दिल्ली, तमिलनाडु और गुजरात का नंबर है.

करोना की वजह से चुनाव और उसके तैयारियों में कोई बाधा ना आए इसलिए @NitishKumar ने तय कर लिया है कि बिहार में करोना की जाँच की रफ़्तार को नहीं बढ़ायेंगे।#बिहार में देश में सबसे कम टेस्टिंग हो रही है। करोना से संक्रमित लोगों के पता ना चलने या उसमें देरी के भयावह परिणाम हो सकते है।
— Prashant Kishor (@PrashantKishor) June 26, 2020

The post प्रशांत किशोर का बड़ा आरोप, कहा चुनाव में बाधा न आए इसलिए बिहार में नहीं हो रही कोरोना जांच appeared first on AKHBAAR TIMES.