30 वर्षीय शादीशुदा महिला को इलाज के दौरान पता चला वह पुरुष है, जाँच में बहन भी निकली पुरुष

Share and Spread the love

पश्चिम बंगाल में एक शादीशुदा महिला अपना सामान्य जीवन जी रही थी. 9 साल पहले उसकी शादी हुई थी. सब कुछ सामान्य जा रहा था. लेकिन अचानक एक दिन वह हैरान रह गयी जब इलाज के दौरान पता चला कि वह पुरुष है. पेट दर्द की शिकायत पर वह डॉक्टर के पास गयी थी.
डॉक्टर ने जांच के बाद बताया कि उसे पुरुषों में होने वाला कैंसर है. जब उसकी बहन ने जांच कराई तो पता चला वह भी पुरुष है. यानि दोनों बहनें एंड्रोजन इंसेंसटिविटी सिंड्रोम से पीड़ित हैं.
यह एक ऐसी दुर्लभ बीमारी है जिसमें जब शख्स पैदा होता है तब उसके जींस पुरुषों के होते हैं लेकिन शरीर महिलाओं की तरह विकसित होता है.
डॉक्टरों ने बताया कि बाहर से देखने में यह पूरी तरह से महिला है. उसकी आवाज, शरीर की बनावट, बाहरी अंग सब महिलाओं के ही हैं. पर उसके शरीर में युट्रेस यानि बच्चे दानी, ओवरीज नहीं है. यहाँ तक कि इस महिला को कभी माहवारी भी नहीं हुई.
पश्चिम बंगाल के बीरभूम में रहने वाली 30 वर्षीय महिला पेट में दर्द होने के बाद नेताजी सुभाष चन्द्र बोस कैंसर अस्पताल में इलाज के लिए गयी थी.
डॉक्टर ने बताया कि महिला को टेस्टीक्यूलर कैंसर है. जो पुरुषों को होता है. ये महिला जिस दुर्लभ स्थिति में है, यह 22 हजार लोगों में किसी एक में देखने को मिलता है.
The post 30 वर्षीय शादीशुदा महिला को इलाज के दौरान पता चला वह पुरुष है, जाँच में बहन भी निकली पुरुष appeared first on AKHBAAR TIMES.