पेट्रोलियम मंत्री का पुतला फूंकने के दौरान सपाइयों की पुलिस से झड़प, हुई छीना-झपटी

Share and Spread the love

पेट्रोल-डीजल की लगातार बढ़ रही कीमतों को लेकर अब राजनैतिक दलों ने सड़क पर उतरकर सरकार का विरोध करना शुरू कर दिया है. यूपी के बीते कई दिनों से समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के कार्यकर्ता तेल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं.
आज उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में सपा नेता अभिमन्यु गुप्ता के नेतृत्व में धारा 144 और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए प्रदर्शन किया गया. जैसे ही सपा नेता पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का पोस्टर जलाने चले उनकी पुलिस से छीना झपटी हो गई. पुलिस ने उनसे पोस्टर छीन लिया और थाने में बिठा लिया.

सपा व्यापार सभा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष व उत्तर प्रदेश प्रान्तीय व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता के नेतृत्व में समाजवादियों ने भाजपा हटाओ देश बचाओ के नारे लगाते हुए पेट्रोलियम मंत्री व भाजपा का संयुक्त पोस्टर जलाने के लिए जैसे ही निकाले तो कई पुलिस वालों ने अभिमन्यु व उनके साथियों कों घेर कर उनसे सामग्री छीन ली और फिर चौकी बड़े चौराहा ले गए.
अभिमन्यु गुप्ता ने कहा की यह भाजपा की हताशा है. विरोध तो सबका मौलिक अधिकार है. सोचिये कितने शर्म की बात है की भाजपा सरकार में डीजल पेट्रोल से भी महँगा हो गया. 2014 से इस मुद्दे पर लगातार सरकार को घेरने वाली भाजपा आज शर्मिंदगी में है. और जब अंतराष्ट्रीय स्तर पर तेल की कीमतें कम हैं तब अगर देशवासियों से 80 रुपये की कीमत ली जाएगी तो इसका मतलब यही है की भाजपा पूर्ण रूप से सरकार चलाने में विफल है और अब उसको हटना चाहिए.

उन्होंने कहा कि वन नेशन वन टैक्स का वादा भी भाजपा के हर वादे की तरह झूठ और धोखा साबित हुआ. माल-सामान का परिवहन व उत्पादन 20 प्रतिशत तक महँगा हो गाया और खेती-किसानी में सिंचाई की लागत भी बढ़ गई. व्यापारी उद्यमी रो रहे हैं क्योंकि वो आर्डर लेकर माल बनाते हैं और कीमत पहले से तय होती है.
सपा नेता जितेन्द्र जायसवाल ने कहा की आज व्यापारी ,किसान सबका नुकसान ही नुकसान हो रहा है. पेट्रोल डीजल मूल्यवृद्धि व कमरतोड़ महंगाई से जनता में त्राहि त्राहि है. जितेंद्र जायसवाल ने कहा की जब तक तेल की कीमतें अंतराष्ट्रीय कीमतों के अनुसार कम नहीं होतीं व जीएसटी में नहीं लाया जाता,तब तक लगातार संघर्ष जारी रहेगा. इस मौके पर अभिमन्यु गुप्ता, जितेंद्र जायसवाल, सहज प्रीत सिंह, राजेन्द्र कनौजिया, मनोज चौरसिया थे.
The post पेट्रोलियम मंत्री का पुतला फूंकने के दौरान सपाइयों की पुलिस से झड़प, हुई छीना-झपटी appeared first on AKHBAAR TIMES.