अखिलेश यादव के विरोध के बाद योगी सरकार ने वापस लिया ये फैसला

Share and Spread the love

Image credit- social mediaसमाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की मांग के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिल्ली स्थित उत्कृष्ठ कोचिंग केंद्रों के माध्यम से आईएएस-पीसीएस की मुख्य परीक्षा हेतु प्रशिक्षण योजना में पिछड़े वर्ग के अभ्यर्थियों को शामिल करने का आदेश जारी कर दिया.
सरकार द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार कहा गया है कि अभी तक इस योजना का लाभ अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जाति वर्ग के अभ्यर्थियों को नहीं मिल रहा था मगर राज्य सरकार द्वारा विचार करने के बाद ये निर्णय लिया गया कि अब इसमें अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जनजाति वर्ग के अभ्यर्थियों को इसमें शामिल करने का निर्णय लिया गया है.

बता दें कि अखिलेश यादव ने राज्य की योगी सरकार से मांग करते हुए कहा है कि वो आईएएस-पीसीएस प्रारम्भिक परीक्षा में सफल हुए अनुसूचित जाति तथा सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा हेतु उत्कृष्ट कोटि के कोचिंग केन्दों के माध्यम से परीक्षा पूर्व कोचिंग दिए जाने की योजना सम्बंधी प्रमुख सचिव, उ0प्र0 शासन द्वारा 27 अप्रैल 2020 को दिशा-निर्देश जारी किए है इसमें पिछड़े वर्ग का कोई उल्लेख नहीं है.
यह शासन द्वारा पिछड़े वर्गों के साथ सरासर अन्याय है. सपा मुखिया अखिलेश यादव की मांग है कि पिछड़े वर्ग के अभ्यर्थियों को भी इसमें शामिल किया जाए.
The post अखिलेश यादव के विरोध के बाद योगी सरकार ने वापस लिया ये फैसला appeared first on AKHBAAR TIMES.