MP- उपचुनाव से पहले कांग्रेस की तीन सर्वे की रणनीति, क्या पटखनी दे पाएगी बीजेपी को?

Share and Spread the love

मध्यप्रदेश की 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर बीजेपी ने असंतुष्टों को साधने की कोशिश चालू कर दी है. इसी के तहत कांग्रेस ने असंतुष्ट भाजपाईयों को साधने की कवायद को शुरु कर दिया है. इसके तहत कांग्रेस निजी कंपनियों द्वारा सर्वे कराकर इस बात की पड़ताल कर रही है कि बीजेपी में दावेदारों की संख्या कितनी है. दावेदारों का स्थानीय क्षेत्रों में ओहदा क्या है.
उनकी क्षेत्र में पकड़ कितनी मजबूत है? सके साथ-साथ टिकट ना मिलने की दशा में उनका असंतोष कितना नुकसान पहुंचा सकता है.इसके अलावा जातीय समीकरणों के आधार पर भी असंतुष्टों की जानकारी जुटाई जा रही है. कांग्रे पार्टी की कोशिश है कि उपचुनाव के दौरान टिकट नहीं मिलने की स्थिति में बीजेपी के असंतुष्टों को साध कर कांग्रेस उपचुनाव में फायदा उठाने की स्थिति में हैं.
file picकांग्रेस पार्टी इस समय तीन प्रकार के सर्वे करा रही है जिसमें सबसे महत्वपूर्ण सर्वे है कि चुनावों के दौरान बीजेपी को किस प्रकार नुकसान पहुंचाया जा सकता है. पीसीसी के कार्यालय प्रभारी राजीव सिंह के मुताबिक साल 2018 के चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी ने सर्वे के आधार पर ही चुनाव में टिकट वितरण और दूसरे फैसले लेने का काम किया था. इस बार भी होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी हर तरीके सर्वे करा रही है.
The post MP- उपचुनाव से पहले कांग्रेस की तीन सर्वे की रणनीति, क्या पटखनी दे पाएगी बीजेपी को? appeared first on AKHBAAR TIMES.