वाराणसी के मददगारों से बातचीत कर रहे हैं पीएम मोदी, हर-हर महादेव कहकर शुरू किया संबोधन

Share and Spread the love

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज लॉकडाउन के दौरान वाराणसी के लोगों की मदद करने वाली संस्थाओं और लोगों से विशेष बातचीत कर रहे हैं. पीएम ने अपना संबोधन हर-हर महादेव से शुरू किया. उसके बाद कहा काशी के पुण्य धरती के आप सब पुण्यात्मा लोगन के प्रणाम हौ. ये हैं पीएम मोदी की बातचीत के प्रमुख अंश-
ये भगवान शंकर का ही आशीर्वाद है कि कोरोना के इस संकट काल में भी हमारी काशी उम्मीद से भरी हुई है, उत्साह से भरी हुई है. ये सही है कि लोग बाबा विश्वनाथ धाम नहीं जा पा रहे? ये सही है कि मानस मंदिर, दुर्गाकुंड, संकटमोचन में सावन का मेला नहीं लग पा रहा है.
संक्रमण को रोकने के लिए कौन क्या कदम उठा रहा है, अस्पतालों की स्थिति क्या है, कहां क्या व्यवस्थाएं की जा रही हैं, क्वारंटीन को लेकर क्या हो रहा है, बाहर से आए श्रमिक साथियों के लिए क्या प्रबंध हो रहे हैं, ये सारी जानकारियां मुझे मिल रही थीं. लेकिन ये भी सही है कि इस अभूतपूर्व संकट के समय में और मेरी काशी, हमारी काशी ने, इस अभूतपूर्व संकट का जटकर मुकाबला किया है. आज का ये कार्यक्रम भी तो इसी की एक कड़ी ही है.

आप सभी के लिए, तमाम संगठनों के लिए, हम सभी के लिए ये बहुत सौभाग्य की बात है कि इस बार गरीबों की सेवा का माध्यम भगवान ने हमें बनाया. एक तरह से आप सभी मां अन्नपूर्णा और बाबा विश्वनाथ के दूत बनकर हर ज़रूरतमंद तक पहुंचे. पुरानी मान्यता है कि एक समय महादेव ने खुद मां अन्नपूर्णा से भिक्षा मांगी थी. तभी से काशी पर ये विशेष आशीर्वाद रहा है कि यहां कोई भूखा नहीं सोएगा, मां अन्नपूर्णा और बाबा विश्वनाथ, सबके खाने का इंतज़ाम कर देंगे.
इस समय काशी में ही लगभग 8 हज़ार करोड़ रुपए के अलग-अलग प्रोजेक्ट्स पर काम तेज़ी से चल रहा है. जब स्थितियां सामान्य होंगी तो काशी में पुरानी रौनक भी उतनी ही तेजी से लौटेगी. इसके लिए हमें अभी से तैयारी करनी होगी. सरकार के हाल के फैसलों के बाद यहां की साड़ियां, यहां के दूसरे हस्तशिल्प के लिए, यहां के डेयरी, मत्स्य पालन और मधुमखी पालन के व्यवसाय के लिए नई संभावनाओं के द्वार खुलेंगे.
कबीरदास जी ने कहा है- “सेवक फल मांगे नहीं, सेब करे दिन रात” सेवा करने वाला सेवा का फल नहीं मांगता, दिन रात निःस्वार्थ भाव से सेवा करता है! दूसरों की निस्वार्थ सेवा के हमारे यही संस्कार हैं, जो इस मुश्किल समय में देशवासियों के काम आ रहें है.
The post वाराणसी के मददगारों से बातचीत कर रहे हैं पीएम मोदी, हर-हर महादेव कहकर शुरू किया संबोधन appeared first on AKHBAAR TIMES.