उत्तर प्रदेश में फिर लगा लॉकडाउन, जानें क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

Share and Spread the love

कोरोना वायरस का प्रसार लगातार बढ़ता ही जा रहा है. संक्रमित मामलों की संख्या में बड़ा उछाल देखने को मिल रहा है. जिसके चलते उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक बार फिर राज्य में लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है. घोषणा की गयी है कि 10 जुलाई की रात 10 बजे से लेकर 13 जुलाई की सुबह पांच बजे तक राज्य में लॉकडाउन रहेगा.
इस लॉकडाउन के दौरान सिर्फ जरुरी सामान की दुकानें और अस्पताल ही खुले रहेंगे. बाकि सभी चीजों पर पाबंदी लगाई गयी है. उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने बताया कि कोविड19 की वर्तमान स्थिति की समीक्षा और संचारी(इन्सेफेलाइटिस, मलेरिया, डेंगू और कालाजार) के संक्रमण को रोकने के लिए यह निर्णय लिया गया है.
उन्होंने बताया कि राज्य में सभी कार्यालय, शहरी व ग्रामीण हाट, बाजार, गल्ला मंडी और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे. जरुरी सेवाओं में कार्यरत व्यक्तियों, कोरोना वारियर, स्वच्छताकर्मी व डोर स्टेप डिलीवरी से जुड़े लोगों की आवाजाही पर कोई प्रतिबन्ध नहीं होगा. रेलवे का आवागमन भी पहले की तरह जारी रहेगा.

रेल से आने-जाने वाले व्यक्तियों के लिए बस का इंतजाम राज्य सरकार करेगी. रेलवे यात्रियों के लिए बस के परिचालन को छोड़ राज्य में सरकारी बस सेवा बंद रहेगी. अंतरराष्ट्रीय और घरेलू विमान सेवा पर रोक में छूट मिली है. एयरपोर्ट से आने-जाने वालों पर प्रतिबन्ध लागू नहीं होगा. मालवाहक वाहनों के आवागमन पर भी रोक नहीं है. ढाबे और पेट्रोल पंप खुले रहेंगे.
आदेश में बताया गया है कि 10, 11 और 12 जुलाई को सफाई और स्वच्छता के लिए वृहद् अभियान चलाया जाएगा. ग्रामीण क्षेत्र में आद्योगिक कारखानों पर कोई प्रतिबन्ध नहीं होगा. अधिकारी और कर्मचारी भी प्रतिबन्ध के दायरे में नहीं आएंगे.

राज्य में तेजी के साथ बढ़ रही संक्रमितों की संख्या 
उत्तर प्रदेश में अब कोरोना का प्रसार तेजी के साथ हो रहा है. गुरुवार को राज्य में रिकॉर्ड 1248 मामले दर्ज किए गए. राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 32 हजार 362 हो गयी है. हालांकि राज्य का कोरोना संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट अन्य राज्यों की तुलना में बेहतर है. राज्य में सक्रीय कोरोना के मामले 10 हजार हैं.
The post उत्तर प्रदेश में फिर लगा लॉकडाउन, जानें क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद appeared first on AKHBAAR TIMES.