भाजपा की गलत नीतियों के चलते शिक्षा क्षेत्र में फैली अव्यवस्थाः अखिलेश यादव

Share and Spread the love

Image credit- social mediaसमाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सूबे की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि सरकार की गलत नीतियों के चलते शिक्षा क्षेत्र में अव्यवस्था फैल रही है. उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते स्कूल-कॉलेज बंद पड़े हैं और ऑनलाइन पढ़ाई पटरी पर नहीं आ पा रही है.
अखिलेश यादव ने कहा कि गरीब परिवारों के बच्चों के पास स्मार्टफोन नहीं है, तमाम स्थानों खासकर देहातों में नेटवर्क की समस्या बनी रहती है. ऑनलाइन पढ़ाई सिर्फ सम्पन्न परिवारों के लिए हो रही है. अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के छात्रों के साथ भी सरकार का सौतेल व्यवहार हो रहा है.
उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने स्कूल काॅलेज तो बंद करा दिए लेकिन उनमें कार्यरत शिक्षकों तथा अन्य कर्मचारियों की जिन्दगी कैसे चलेगी, इसकी चिंता नहीं की. विद्यालय प्रबन्धन पर विद्यालय बंदी के समय की फीस भी न लेने का दबाव बना. ऐसी स्थिति में जो अभिभावक फीस देने में सक्षम थे, वे भी फीस नहीं जमा कर रहे हैं. नतीजतन 10 लाख से ज्यादा प्राइवेट काॅलेजों के शिक्षक वेतन के अभाव में भुखमरी के कगार पर पहुंच गए हैं.

अखिलेश ने कहा कि स्थिति यह है कि कुछ प्राईवेट विद्यालयों ने मार्च-अप्रैल का वेतन दे दिया, आगे वेतन देने से हाथ रोक लिए है, वहीं कई विद्यालयों के शिक्षकों को मार्च का वेतन भी नहीं मिला है. जो अपने शिक्षण कार्य से आजीविका चला रहे थे उनके सामने गम्भीर संकट पैदा हो गया है. बेकारी और भूख से बहुत से शिक्षक अवसादग्रस्त हो गए हैं.
सपा मुखिया ने कहा कि शिक्षाजगत के प्रति भाजपा सरकार में यदि तनिक भी सम्मान का भाव होता तो वह प्राइवेट मान्यता प्राप्त विद्यालयों के शिक्षक अनुमोदन के हिसाब से सरकार न्यूनतम वेतन का सहयोग कर देती. इससे सुविधानुसार शिक्षक ऑनलाइन कक्षाएं ले सकते और अभिभावकों पर भी फीस का भार कुछ कम हो जाता. इसमें शिक्षक, अभिभावक और विद्यालय प्रबन्धन सभी के हित पूरे हो जाते.
The post भाजपा की गलत नीतियों के चलते शिक्षा क्षेत्र में फैली अव्यवस्थाः अखिलेश यादव appeared first on AKHBAAR TIMES.