कांस्टेबल सुनीता यादव के समर्थन में आए सपा मुखिया अखिलेश यादव, गुजरात सरकार से की ये अपील

Share and Spread the love

image credit-social mediaगुजरात की सड़कों पर कर्फयू के दौरान वराछा इलाके में बिना मास्क लगाकर घूमने वाले युवकों के पकड़े जाने पर बचाव में आए मंत्री प्रकाश कानाणी व महिला कांस्टेबल सुनीता यादव के बीच तकरार का आडियो सोशल मीडिया पर  वायरल होने के बाद सूरत पुलिस आयुक्त ने घटना की जांच के आदेश दे दिए था.
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस घटना के बाद सुनीता ने अपना इस्तीफा सौंप दिया है. सूरत में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के चलते जहां एक ओर प्रशासन व पुलिस के लोग रात्रि कर्फयू से लेकर हीरा वे टेक्सटाइल बाजार को बंद कराने जैसे सख्त कदम उठा रहे हैं. वहीं इसी बीच नियम व कानून को धता बताते हुए मंत्री पुत्र रात 10 बजे बिना मास्क पहनकर घूम रहे अपने दोस्तों को छुड़ाने के लिए थाने पहुंच गए.
वराछा पुलिस थाना के पाउंट पर महिला पुलिसकर्मी सुनीता यादव इन युवकों को बिना मास्क के पकड़ा था. यहां पर इन युवकों ने सुनीता से दुर्वव्यवहार किया और इसके साथ ही देख लेने की भी धमकी दी.
युवकों ने मंत्री पुत्र का दोस्त होने का पावर दिखाया और मंत्री पुत्र प्रकाश कानाणी भी एमएलए गुजरात लिखी कार लेकर वहां पर पहुंच गए. इस दौरान इन लोगों की कहासुनी सुनीता यादव से हुई. इस पर प्रकाश व दोस्तों ने उसे देख लेने की धमकी दी और कहा कि तुम्हारी मां व बहन के साथ यहां 365 दिन खड़ा कर देंगे. उधर जानकारी आ रही है कि घटनाक्रम के बाद सुनीता यादव ने अपना इस्तीफा सौंप दिया है.
अब इस मामले में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव भी कूद गए हैं, उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि आज हम सब गुजरात की कर्तव्यनिष्ठ कांस्टेबल सुनीता के साथ खड़े हैं. ऐसे ही सत्यनिष्ठ लोगों से पुलिस का मान बढ़ता है. गुजरात की भाजपा सरकार सुनीता को सम्मानित करे.

The post कांस्टेबल सुनीता यादव के समर्थन में आए सपा मुखिया अखिलेश यादव, गुजरात सरकार से की ये अपील appeared first on AKHBAAR TIMES.