राजस्थान में सियासी संकट बरकार, पायलट समर्थक बोले- गहलोत नहीं मंजूर

Share and Spread the love

राजस्थान में अभी सियासी संकट बरकरार है. सचिन पायलट का गुट अपनी बात पर अड़ा है. पायलट गुट के विधायकों का कहना है कि जब तक मान सम्मान की गारंटी नहीं होगी, तब तक वापसी नहीं होगी. मान-सम्मान तब तक वापस नहीं मिलेगा जब तक लीडरशिप नहीं बदलेगी.
बताया जा रहा है कि पायलट समर्थकों ने आलाकमान के पास यह सन्देश भिजवा दिया है. उनकी मांग है कि अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने पर ही समझौता होगा. आज भी कांग्रेस विधायक दल की बैठक होनी है, लेकिन सचिन पायलट ने बैठक में जाने से मना कर दिया है.
सचिन पायलट समर्थक मुकेश भाकर अपने एक ट्वीट में कहते हैं कि जिंदा हो तो जिंदा नजर आना जरुरी है, उसूलों पर आंच आए तो टकराना जरुरी है. कांग्रेस में निष्ठा का मतलब है अशोक गहलोत की गुलामी. वो हमें मंजूर नहीं.
वहीं आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक सुबह 10 बजे होनी थी, लेकिन सचिन पायलट के न मानने के बाद ये बैठक टल रही है. इस सियासी संकट के बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मोर्चा संभालते हुए सचिन पायलट और गहलोत से बात की थी. हालांकि अभी तक कोई समाधान सामने नहीं आ पाया है.
सोमवार को हुई कांग्रेस विधायक दलों की बैठक में सौ से अधिक विधायक शामिल हुए थे. इसके जरिए गहलोत ने अपनी ताकत भी दिखाई. उन्होंने ये बताने की कोशिश की कि विधायक उनके साथ हैं.
The post राजस्थान में सियासी संकट बरकार, पायलट समर्थक बोले- गहलोत नहीं मंजूर appeared first on AKHBAAR TIMES.