किसानों की समस्याओं को लेकर अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर कसा तंज, कहा कोरोना संकट…

Share and Spread the love

समाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने किसानों की समस्याओं को लेकर भाजपा सरकार को घेरते हुए कहा कि भाजपा को किसानों की तबाही से कोई परेशानी नहीं है. कोरोना संकट के बहाने वह बड़े उद्यमियों की दिक्कतें दूर करने में ही व्यस्त है. पिछले दिनों बेमौसम बरसात, ओलावृष्टि और आकाशी बिजली गिरने से किसान संकट से गुजरे थे और अभी उसके नुकसान से संभल भी नहीं पाए थे कि बाढ़ और टिड्डी दल के प्रकोप ने उनकी परेशानियों में भारी वृद्धि कर दी है.
अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा किसानों के साथ लगातार छल कर रही है. केन्द्र सरकार द्वारा घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसानों की फसलों की कहीं खरीद नहीं हुई. बहुत जगहों पर तो क्रय केन्द्र ही नहीं खुले. जहां खुले थे वहां किसान को किसी न किसी बहाने से ऐसे परेशान किया गया कि वह बिचैलियों और आढ़तियों को ही उत्पाद बेंच दे.

उन्होंने कहा कि किसानों का हित करने के नाम पर भाजपा सरकार ने डीजल के दाम बढ़ा दिए जिसकी खेती किसानी में बहुत जरूरत होती है. बिजली के दाम भी बढ़ाए दिए गए. गन्ना किसानों का 10 हजार करोड़ रूपया से ज्यादा का बकाया है. मण्डियों को लेकर भी भाजपा सरकार गम्भीर नहीं है. बल्कि बिचैलियों के लिए उन्हें ही समाप्त किया जा रहा है. पूरे देश में खुले बाजार का किसान क्या ओढ़ेगा और क्या बिछाएगा?
सपा मुखिया ने कहा कि ओलावृष्टि और बेमौसम बरसात से किसानों को भारी क्षति पहुंची. समाजवादी पार्टी ने किसानों 10-10 लाख रूपए मुआवजे में देने की मांग उठाई थी, लेकिन भाजपा सरकार ने मौन साध लिया. भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में घोषित किया था कि किसानों को फसल की उत्पादन लागत से डेढ़ गुना मिलेगा, उसे उत्पादन लागत भी नहीं मिल रहा है. किसान की आय दुगनी करने का दावा शुरू के दिन से ही झूठा है. भाजपा सरकार के रहते सन् 2022 तो छोड़िए 2024 तक भी किसानों को नाउम्मीदी ही हाथ लगेगी.
The post किसानों की समस्याओं को लेकर अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर कसा तंज, कहा कोरोना संकट… appeared first on AKHBAAR TIMES.