बिहार कांग्रेस नेता मंजूबाला की मांग, कहा लॉकडाउन में मजदूरों की जरूरतों का ख्याल रखे सरकार

Share and Spread the love

कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के मद्देनजर बिहार की नितीश सरकार ने राज्य में 15 दिनों के लिए लॉकडाउन लगा दिया है. लॉकडाउन के दौरान गरीबों, मजदूरों और दिहाड़ी कामगारों को फिर से परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.
बिहार महिला कांग्रेस की पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष मंजूबाला पाठक ने सरकार से अपील की है कि सरकार ने जो 16 दिनों के लिए लॉकडाउन किया है इसमें गरीबो और दिहाड़ी मजदूरों का ख्याल रखा जाए. उनके भोजन और परिवार की जरूरतों का ख्याल रखा जाए. दिहाड़ी मजदूर रोज़ कमाते है तभी उनके भोजन की आवश्यकता भी पूरी होती है. ऐसे में सरकार को मजदूरों की आर्थिक मदद भी करनी चाहिए.
मंजूबाला पाठक ने कहा कि बिहार सरकार केंद्र वाली गलती ही दोहरा रही है. बिना किसी तैयारी के लॉकडाउन किया जा रहा है. मजदूरों और गरीबों को विश्वास में नही लिया गया है. 16 दिन कि लिए उनके काम पर भी ताला लग गया है. अब उनकी बुनियादी आवश्यकताएं कैसे पूरी होंगी? सरकार को अविलंब ऐसे लोगो की पहचान कर उनके खातों में पैसा डालना चाहिए. जिससे 16 दिन के लॉकडाउन को पूर्ण रूप से सफल बनाया जा सके.

उन्होंने कहा कि इसके पहले जब कांग्रेस ने कोरोना की बढ़ती संख्या पर सरकार से सवाल पूछा था तब सरकार ने इस पर ध्यान नही दिया. एक दिन में ही बीजेपी आफिस से इतने कोरोना पॉजिटिव निकले की सरकार की आंखें खुल गयी. स्वास्थ्य सुविधाओ की जांच कर इनको पुख्ता करने की आवश्यकता है. इसके अलावा सैंपलिंग भी बढ़ाने की जरूरत है.
कांग्रेस नेता ने कहा कि लॉकडाउन वायरस से बचने का कोई तरीका नही है. ये तो बस केसेज को कुछ दिन रोक देगा. बचाव और सोशल डिस्टेनसिंग के लिए सरकार को कुछ करना होगा. लोगो के बीच काम करना पड़ेगा. अब देखने वाली बात ये है कि इस लॉकडाउन में सरकार कैसे लोगो तक जरूरी सामानों को आपूर्ति करती है.
The post बिहार कांग्रेस नेता मंजूबाला की मांग, कहा लॉकडाउन में मजदूरों की जरूरतों का ख्याल रखे सरकार appeared first on AKHBAAR TIMES.