दर्जनों गांवों का अस्तित्व बचाने की मांग को लेकर युवा चेतना प्रमुख रोहित सिंह धरने पर

Share and Spread the love

बलिया जिले में गंगा नदी के किनारे स्थित हैबतपुर सहित दर्जनों गांवों का अस्तित्व बचाने के लंबे समय से संघर्ष कर रहे युवा चेतना प्रमुख रोहित सिंह एक बार फिर धरने पर बैठ गए हैं. उनका कहना है कि सरकार ने अभी तक कटान रोकने के लिए कोई काम नहीं शुरू करवाया है, अब तक बस आश्वासन ही मिलता आया है.
रोहित सिंह ने कहा कि मानसून आ गया है पर अब तक बांध निर्माण का काम योगी सरकार ने नहीं शुरू करवाया. उन्होंने कहा कि जब युवा चेतना बांध निर्माण के कार्य हेतु आंदोलन तेज करती है तो अधिकारी सरकार के इशारे पर मौक़े पर पहुँच कर नक़्शा निकाल कर 24 घंटे में कार्य शुरू करने का दावा करते हैं परंतु 2 साल से अधिक समय बीत गया अबतक बांध निर्माण हेतु कोई सुगबुगाहट नहीं है.
उन्होंने कहा कि मालदेपुर मोड़ से गंगा नदी की दूरी महज 700 मीटर है मगर इस बार के बारिश के बाद यह अंतर महज 400 मीटर ही रह जाएगा, फिर हैबतपुर सहित इन गाँवों का क्या होगा.

रोहित सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वयं हैबतपुर गाँव से उज्ज्वला योजना शुरू की थी, पीएम मोदी यहां कई बार आ चुके हैं परंतु अबतक कोई विकास नहीं हुआ.
उन्होंने कहा कि पिछले मानसून में बैरिया के दुबे छपरा का रिंग बांध टूट गया था उसके पुनर्निर्माण का कार्य शुरू हो गया परंतु हैबतपुर सहित इन गाँवों के साथ योगी सरकार क्यों पूर्वाग्रह से पेश आ रही है.
रोहित ने कहा कि भाजपा वर्चूअल के चक्कर में हैं और हम एक्चूअल के साथ हैं. हम बलिया के विकास की लड़ाई दिल्ली तक लड़ेंगे. उन्होंने कहा कि हम चुनावी पक्षी नहीं है हमारा संघर्ष बलिया के जनता के बेहतरी हेतु है. इस अवसर पर अजय राय मुन्ना, मोहन सिंह, बैजू राय, अजय ओझा, नीलकांत वर्मा आदि उपस्थित रहे.
The post दर्जनों गांवों का अस्तित्व बचाने की मांग को लेकर युवा चेतना प्रमुख रोहित सिंह धरने पर appeared first on AKHBAAR TIMES.