“सरकार होती तो राम मंदिर न बनने देता“, अखिलेश के वायरल ट्वीट की जानें पूरी सच्चाई

Share and Spread the love

सोशल मीडिया के इस दौर में कौन सी चीज कब वायरल हो जाएगी इसका अंदाजा लगाना बेहद ही मुश्किल है. इसमें तमाम ऐसी बातें भी वायरल हो जाती हैं जिनका सच्चाई से संबंध ही नहीं होता है. कुछ लोग इसे दूसरे को बदनाम करने के लिए बड़ी ही सफाई के साथ इस्तेमाल करते हैं.
सपा मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के नाम से भी ऐसा ही मैसेज सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. ट्विटर के स्क्रीनशॉट वाले इस मैसेज में लिखा हुआ है कि हमारी सरकार होती तो मैं नेताजी के नक्शे कदम पर चलता, चाहे जिनती भी जानें जाती लेकिन कभी राम मंदिर नहीं बनने देता.
Image credit- social mediaइस ट्वीट में बाकायदा उनके वेरिफाइड ट्विटर अकाउंट का लोगो भी लगा है और इसमें जो तारीख दर्ज है वो 3 नवंबर 2019 समय दोपहर 1ः00 बजे का है. ट्वीट के इस स्क्रीनशॉट के वायरल होने के बाद इसपर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आनी शुरू हो गई. तमाम लोग कह रहे हैं कि अखिलेश राम मंदिर निर्माण के विरोधी हैं.
इसी सच्चाई जानने के लिए जब हमने जांच पड़ताल की तो ये पाया कि अखिलेश यादव के वास्तिविक ट्विटर अकाउंट से 3 नवंबर 2019 को कोई ट्वीट किया ही नहीं गया. इससे ये साबित हुआ कि ये स्क्रीनशॉट पूरी तरह से फर्जी है और इसे फोटोशॉप की मदद से तैयार किया गया है. इससे पीछे उन्हें बदनाम की मंशा साफ जाहिर हो रही है.
The post “सरकार होती तो राम मंदिर न बनने देता“, अखिलेश के वायरल ट्वीट की जानें पूरी सच्चाई appeared first on AKHBAAR TIMES.