राजस्थान सरकार को संकट से उबारने के लिए ‘प्रियंका कार्ड’ अपना रही कांग्रेस

Share and Spread the love

image credit-socialo mediaराजस्थान में विगत 10 दिनों से जारी सियासी संग्राम के बीच पायलट गुट की याचिका पर हाईकोर्ट सुनवाई करेगा. इस बीच सूत्रों से जानकारी मिल रही है कि सचिन पायलट कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से लगातार संपर्क बनाए हुए हैं. मीडिय रिपोर्टस की मानें तो पायलट ने अयोग्यता नोटिस को हाईकोर्ट में चुनौती जरुर दी है लेकिन इसके साथ ही कांग्रेस में अपनी मांगों को पूरा करवाने के लिए कांग्रेस यूपी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ लगातार संपर्क बनाए हुए हैं.
इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक सचिन पायलट पिछले 3 से 4 दिनों से प्रत्येक दिन प्रियंका गांधी के साथ बातचीत कर रहे हैं. हालांकि इन दोनो लोगों के बीच अभी तक किन मुद्दों को लेकर बा हुई है इसकी जानकारी नहीं हो पाई है.

बता दें कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार में ये अहम बदलाव उस वक्त देखने को मिल रहा है जब सूबे की राज्य सरकार ने सचिन पायलट की अगुवाई में असंतुष्ट विधायकों के खिलाफ एक्शन के लिए प्लान बी तैयार कर लिया है.
इसके पहले भी प्रियंका गांधी ने सचिन पायलट से बातचीत कर कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ बातचीत करने के लिए आफर किया था लेकिन सचिन पायलट ने इस आफर को ठुकरा दिया था.
वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी सचिन पायलट की कांग्रेस में वापसी चाहते हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वे कांग्रेस में सचिन को ससम्मानजनक वापसी कराने के लिए प्रयासरत हैं. उनका माना है कि कांग्रेस को एक बार फिर से सचिन पायलट को मौका देना चाहिए.
The post राजस्थान सरकार को संकट से उबारने के लिए ‘प्रियंका कार्ड’ अपना रही कांग्रेस appeared first on AKHBAAR TIMES.