स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी के जन्मदिन पर शिक्षा से बदलाव कार्यक्रम कर रही है युवा चेतना

Share and Spread the love

पूर्वी उत्तर प्रदेश के राजनीतिक दल युवा चेतना के संरक्षक स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी के 38वें जन्मदिवस पर पार्टी आज शिक्षा से बदलाव कार्यक्रम कर रही है. इस मौके पार्टी के तमाम कार्यकर्ता उनको बधाई संदेश दे रहे हैं और उनकी लंबी आयु की कामना कर रहे हैं.
इस मौके पर युवा चेतना प्रमुख रोहित कुमार सिंह ने बताया कि कोरोना महामारी के कारण युवा चेतना के कार्यकर्ता अपने घर के आसपास गरीबों की मदद कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि युवा चेतना के तमाम कार्यकर्ता बलिया के 50 से अधिक गांवों में शिक्षा से बदलाव कार्यक्रम का अयोजन कर रहे हैं.
रोहित सिंह ने कहा कि हर व्यक्ति को शिक्षित करके ही भारत को विश्वगुरू बनाया जा सकता है. उन्होंने कहा कि स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी समाज में परिवर्तन लोन हेतु लगातार प्रयास कर रहे हैं. उनकी सोच है कि हर गरीब का उत्थान हो और कोई भूखा न रहने पाए. रोहित ने कहा कि शिक्षा से बदलाव कार्यक्रम के तहत गरीब और कमजोर तबके तक शिक्षा पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है.

बता दें कि स्वामी अभिषेक ब्रह्म्चारी बड़े संत हैं जो सनातन धर्म के प्रचार के साथ साथ मानव सेवा के क्षेत्र में भी लगातार बड़े काम करते रहते हैं.
स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी का जन्म बलिया जिला के हैबतपुर गाँव में 21 जुलाई 1982 को हुआ था. स्व. लल्लन राय और उषा राय की तीसरी संतान स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी स्वामी सदानंद सरस्वती वेदांती के शिष्य हैं. वेदांती जी महराज स्वामी करपात्री जी के शिष्य थे.
स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी वेदांती जी महराज से 2000 में जुड़े स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी ने वेदांती जी का दर्शन ददरी मेला में किया और उसके बाद उनसे जुड़ गए 2003 के बाद स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी की अपने घर से दूरी हो गई और सनातन धर्म एवं मानव सेवा के कठिन रास्ते पर वो निकल पड़े.
The post स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी के जन्मदिन पर शिक्षा से बदलाव कार्यक्रम कर रही है युवा चेतना appeared first on AKHBAAR TIMES.