अमीरों को विदेश से वापस लाने वाले गरीबों को भी वापस लाएं तो कितना अच्छा होगाः अखिलेश यादव

Share and Spread the love

कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन की वजह से प्रवासी मजदूरों को उनके राज्य में वापस लाने को लेकर विपक्षी दल सरकार पर लगातार दबाव बना रहा है. सरकार ने कुछ राज्यों से लोगों को निकालने का काम भी शुरू कर दिया है मगर ये संख्या बहुत ही कम है. इसी के साथ विदेशों में फंसे भारतीयों को आज से वापस लाने का काम भी शुरू हो गया है.
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक शायरी के साथ सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि अमीरों को विदेश से वापस लाने का रिकार्ड बनाने की चाह रखने वाले अगर देश में गरीबों को भी मुफ्त में वापस लाने का रिकार्ड बनाएं तो कितना अच्छा हो.

इसके साथ कुछ तस्वीरें शेयर करते हुए उन्होंने लिखा कि मुश्किलों में अपना घर बहुत याद आता है, जाने दो हमको वतन, कोई हमें बुलाता है. इससे पहले भी अखिलेश यादव कई बार मजदूरों की वापसी को लेकर सरकार को घेर चुके हैं.
बता दें कि लॉकडाउन के बाद से दूसरे राज्यों में फंसे तमाम लोग पैदल, साइकिल, रिक्शे आदि से ही अपने घरों की ओर चल दिए हैं. ये संख्या बहुत ज्यादा है. आज भी हाइवे पर लोगों को पैदल अपने घर की ओर जाते देखा जा रहा है. हालांकि सरकार ट्रेनों, बसों से उन्हें लाने का काम कर रही है.

मुश्किलों में अपना घर बहुत याद आता है
जाने दो हमको वतन…कोई हमें बुलाता है
अमीरों को विदेश से वापस लाने का रिकॉर्ड बनाने की चाह रखनेवाले अगर देश में ग़रीबों को भी मुफ़्त में वापस लाने का रिकार्ड बनाएं तो कितना अच्छा हो. pic.twitter.com/GwQgtp1jt3
— Akhilesh Yadav (@yadavakhilesh) May 7, 2020

The post अमीरों को विदेश से वापस लाने वाले गरीबों को भी वापस लाएं तो कितना अच्छा होगाः अखिलेश यादव appeared first on AKHBAAR TIMES.