जय बाजपेयी को बचाने में लगा था एक बड़ा अफसर, लेकिन फिर बिगड़ गया खेल

Share and Spread the love

विकास दुबे के करीबी जय बाजपेयी को कानपुर प्रकरण के कुछ ही दिन बाद हिरासत में लेकर पूछताछ की जाती रही. तीन लग्जरी कारों के लावारिस मिलने के बाद जय को हिरासत में लिया गया था. उससे लगातार पूछताछ होती रही लेकिन कोई खास जानकारी सामने नहीं आई. फिर अचानक उसे जेल भेज दिया गया.
ऐसे में सवाल खड़ा हो रहा है कि जय को जेल भेजने में इतना समय क्यों लगा. बताया जा रहा है कि एक बड़ा अफसर जय की मदद कर रहा था. लेकिन बात बनते-बनते बिगड़ गयी.
तीन लावारिस गाड़ियां मिलीं. पूछताछ में जय और विकास के कनेक्शन की पुष्टि भी हुई. रूपये का लेनदेन भी सामने आया और भी कुछ अहम साक्ष्य पुलिस के पास पहले से मौजूद थे. लेकिन इसके बाद भी उसे जेल नहीं भेजा जा रहा था.
ऐसा बताया जा रहा है कि अफसर ने सांठगांठ करली थी. मामला ठंडा होने पर जय को छोड़ने की योजना थी. शनिवार को उसे छोड़ भी दिया गया. जिसके बाद सोशल मीडिया पर रिटायर्ड अफसर और कई विपक्षी नेताओं ने सरकार को घेरना शुरू कर दिया. जिसके बाद पुलिस को जय को गिरफ्तार कर जेल भेजना पड़ा.
जय की जो गाड़ियां लावारिस मिली थी उनकी जांच अभी भी चल रही है. विकास दुबे ने इन गाड़ियों का इस्तेमाल किया था या नहीं इसी को जानने का प्रयास किया जा रहा है.
The post जय बाजपेयी को बचाने में लगा था एक बड़ा अफसर, लेकिन फिर बिगड़ गया खेल appeared first on AKHBAAR TIMES.