बड़ा खुलासाः जिसको आज तक नाबालिग समझ रहे थे लोग वो निकला बालिग, प्रभात मिश्रा..

Share and Spread the love

कानपुर के बिकरु कांड में पुलिस मुठभेड़ में प्रभात मिश्रा नाम के विकास दुबे के गुर्गे को मुठभेड़ में पुलिस ने मार गिराया था. प्रभात मिश्रा को लेकर लगातार उसकी उम्र को लेकर सवाल उठाए जा रहे थे. पुलिस की मानें तो उसे फरीदाबाद से पकड़ा गया था जिसके बाद उसको वहां से कानपुर लाया जा रहा था इस दौरान उसने भागने की कोशिश की, इसी कोशिश में पुलिस और उसके बीच मुठभेड़ हुई जिसमें वो मारा गया.
इस एनकाउंटर के बाद उसके नाबालिग होने का मामला लगातार तूल पकड़ रहा था इस मामले को लेकर अब चौंकाने वाला खुलासा किया गया है जिसमें ये पता चला है कि वो नाबालिग नहीं था बल्कि उसकी उम्र 20 साल की थी. गौरतलब है कि प्राथमिक विद्यालय बिकरु में प्रभात मिश्रा की जन्मतिथि अगस्त 2020 दिखाई गई है, स्कूल की टीसी में भी उसकी उम्र यही लिखी हुई है.

हालांकि इसमें प्रभात मिश्रा के स्थान पर शानू लिखा हुआ है. जबकि मां और पिता का नाम वही है. हाईस्कू के प्रमाण पत्रं में प्रभात का नाम कार्तिकेय लिखा हुआ है. इसके बाद इसका अंदाजा लगाया जा सकता है कि प्रभात के तीन नाम थे शानू, प्रभात और कार्तिकेय? हालांकि उसके तीन नामों को लेकर किसी के पास कोई जवाब नहीं हैं.
परिवारीजन भी इस मामले को लेकर चुप्पी साधे हुए हैं. हालांकि उम्र को लेकर अभी तक जो सवाल खड़े हो रहे थे. उससे एक स्थिति तो साफ हो गई है कि वो बालिग था. बतातें चले कि कक्षा 8 में ही वो विकास दुबे का साथी बन गया था विकास दुबे के साथ गाड़ी में घूमना, उसके साथ रायफल लेकर अक्सर प्रभात को ही देखा जाता था.
The post बड़ा खुलासाः जिसको आज तक नाबालिग समझ रहे थे लोग वो निकला बालिग, प्रभात मिश्रा.. appeared first on AKHBAAR TIMES.