किसानों से खेती की जमीन छीन कारपोरेट घरानों को देने की साजिश रच रही है भाजपाः अखिलेश

Share and Spread the love

समाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि किसानों से खेती की जमीनों को छीनकर बड़े औद्योगिक घरानों को देने की साजिश रची जा रही है.
अखिलेश यादव ने कहा कि गत जून माह में आर्थिक सुधार के नाम पर भाजपा की केन्द्र सरकार जो तीन अध्यादेश लाई है उससे किसानों की दशा के दुर्दशा में बदलने में देर नहीं लगेगी. किसान अभी घाटे में रहकर भी अपने खेत में श्रम करने से नहीं चूकता है.
उन्होंने कहा कि भाजपा ने पहले किसानों की आय दुगनी करने का और फसल का दाम डयोढ़ा करने का जो वादा किया उसकी अब चर्चा भी नहीं होती है. उसकी जगह कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग की वकालत की जाने लगी है. इसमें किसान का मालिकाना हक भी चला जाएगा.

सपा मुखिया ने कहा कि भाजपा सरकार अपने किसी भी वादे को निभाना नहीं चाहती है. इसलिए उसने अपने अध्यादेश में ऐसी कोई व्यवस्था नहीं की है कि किसान को कम्पनियां एमएसपी से कम दाम नहीं देंगी. भाजपा सरकार ने खेती को आवश्यक वस्तु अधिनियम से हटाकर और दूसरे राज्यों में भी फसल बेचने की सुविधा देकर कोई बड़ा उपकार किसानों पर नहीं किया है.
अखिलेश ने कहा कि किसानों को पूरी तरह तबाह करने की भाजपा की साज़िश है, जिससे तंग आकर किसान का मोह खेती से भंग हो जायें और उसके खेत बड़े कारोबारियों अथवा विदेशी निवेशकों के चंगुल में चले जाने का रास्ता साफ हो जाये.
The post किसानों से खेती की जमीन छीन कारपोरेट घरानों को देने की साजिश रच रही है भाजपाः अखिलेश appeared first on AKHBAAR TIMES.