राम मंदिर भूमि पूजन को रोकने वाली याचिका हाईकोर्ट ने की खारिज, से था पूरा मामला

Share and Spread the love

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में 5 अगस्त को होने वाले राम मंदिर भूमि पूजन का रास्ता अब लगभग साफ हो गया है. भूमि पूजन को रोकने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट में एक याचिका भी दाखिल की गई थी जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया. अब सबकुछ लगभग तय हो चुका है.
दिल्ली के पत्रकार साकेत गोखले ने की ओर से इलाहाबाद हाईकोर्ट में दाखिल याचिका में कहा गया था कि ये कार्यक्रम कोविड-19 के अनलॉक-2 की गाइडलाइन का उल्लंघन है. इस कार्यक्रम में लगभग 300 लोग इकठ्ठे होंगे जिससे सोशल डिस्टेंसिंग नियम की धज्जियां उड़ेंगी. इसलिए फिलहाल इस कार्यक्रम पर रोक लगाई जाए.

याचिका में ये भी कहा गया था कि राज्य सरकार केंद्र सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन में छूट भी हनीं दे सकती. इस याचिका के खारिज होने के बाद अब भूमि पूजन का रास्ता एकदम साफ हो गया है. बता दें कि अदालत के फैसले के बाद राम मंदिर निर्माण के लिए बने ट्रस्ट की ओर से ये कार्यक्रम किया जाएगा.
बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद इस कार्यक्रम में शामिल होंगे और मंदिर की आधारशिला रखेंगे. पीएम मोदी के अलावा मंदिर आंदोलन से जुड़े तमाम लोग भी इस कार्यक्रम में शामिल होंगे. इसमें बीजेपी और आरएसएस के बड़े लीडर शामिल हो सकते हैं.
The post राम मंदिर भूमि पूजन को रोकने वाली याचिका हाईकोर्ट ने की खारिज, से था पूरा मामला appeared first on AKHBAAR TIMES.