राजस्थानः आखिर अशोक गहलोत विधानसभा सत्र बुलाने की मांग पर क्यों अड़े हैं?

Share and Spread the love

IMAGE CREDIT-GETTYराजस्थान के सीएम अशोक गहलोत इन दिनों विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग पर अड़े हुए हैं. माना जा रहा है कि अगर विधानसभा के सत्र जल्द आयोजित होता है तो उससे गहलोत को राज्य में जारी सियासी लड़ाई में बढ़त हासिल हो जाएगी. ऐसे में गहलोत सरकार इस बात को साबित कर देगी कि वो बहुमत में हैं. और फिर उन्हें उन विधायकों को होटलों में नहीं रखना पड़ेगा.
सीएम अशोक गहलोत ने एक बार इसी क्रम में फिर से विधायक दल की बैठक बुलाई है. इस बैठक को जयपुर स्थित एक होटल में किया जा रहा है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विधानसभा सत्र आयोजित होने की स्थिति में पार्टी व्हिप के मुताबिक सचिन पायलट और समर्थक विधायकों को नोटिस जारी किया जाए. नोटिस का पालन ना करने की स्थिति में पायलट और उनके समर्थक विधायकों के खिलाफ कार्रवाई भी हो सकती है.

विधानसभा में बहुमत साबित करने का गहलोत सरकार को एक और फायदा मिलेगा कि नियमों के मुताबिक उनको 6 महीने का समय मिल जाएगा जिससे वह अपने आपको और मजबूत स्थिति में ला सकते हैं. इसी कारण से सीएम गहलोत विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग पर अड़े हुए हैं.
वहीं राज्यपाल ने सरकार से सवाल पूछा है कि विधानसभा का विशेष सत्र क्यों बुलाया जाए? राज्यपाल ने इस संदर्भ में सरकार को एक चिट्ठी भी भेजी है, जिसमें उन्होंने पूछा है कि सरकार ने विधानसभा सत्र बुलाने की कोई तारीख नहीं बताई है.
इसके साथ ही सरकार द्वारा इस बात को भी नहीं स्पष्ट किया गया है कि विधानसभा सत्र क्यों बुलाया जा रहा है. कैबिनेट ने भी सत्र के लिए किसी प्रकार का कोई अप्रूवल नहीं दिया है.राज्यपाल ने कोविड-19 के हालात को देखते हिुए भी विधानसभा सत्र बुलाने की मांग पर सवाल खड़े किए हैं.
The post राजस्थानः आखिर अशोक गहलोत विधानसभा सत्र बुलाने की मांग पर क्यों अड़े हैं? appeared first on AKHBAAR TIMES.