भाजपा की कथनी और करनी में भारी अंतर, जनता दंड भुगतने को मजबूरः अखिलेश यादव

Share and Spread the love

समाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सूबे की भाजपा सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि इनकी कथनी और करनी में भारी अंतर है, जनता दंड भुगतने को मजबूर है. उन्होंने कहा कि डबल इंजन सरकार वादे पर वादा करके लोगों को सिर्फ बहकाने का काम कर रही है. सरकार सिर्फ दिन काटने की जुगत में लगी हुई है.
अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार जनता का ध्यान समस्याओं से हटाने के लिए 24 घंटे बिजली देने, किसानों की आमदनी दोगुनी करने जैसे नए-नए वादे कर रही है. बेहतर होता इस नए दावे के साथ यह भी बता देते कि प्रदेश में कितनी बिजली बन रही है, कितनी खपत हो रही है और कितनी बिजली की जरूरत होगी?
सपा मुखिया ने कहा कि जनता को राहत मिले, भाजपा की इसमें जरा भी रूचि नहीं. उसे तो जनता को परेशानी में देखकर अच्छा लगता है. भाजपा राज केन्द्र और राज्य के कार्यकाल में गांव की बिजली 500 प्रतिशत और शहरी क्षेत्र में 84 प्रतिशत तक मंहगी हो गई है.

सभी जिलों में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि फीडर बन जाने से किसानों को ही सबसे ज्यादा नुकसान उठाना पड़ रहा है. किसानों को समाजवादी सरकार में पहले 18 घंटे विद्युत आपूर्ति होती थी अब केवल 10 घंटे विद्युत आपूर्ति भी नहीं मिल रही है.
अखिलेश ने कहा कि किसानों के नलकूपो का विद्युत भार भी मनमाने तरीके से बढ़ाकर भारी-भरकम बिल जारी किए जा रहे हैं. बिना जांच ऐसी कार्रवाई से लोगों में बहुत असंतोष है. कनेक्शन देने की प्रक्रिया अफसरशाही ने जटिल बना दी है.
The post भाजपा की कथनी और करनी में भारी अंतर, जनता दंड भुगतने को मजबूरः अखिलेश यादव appeared first on AKHBAAR TIMES.