सिंधिया-पायलट की बगावत के बाद अब कौन छोड़ने वाला है कांग्रेस?

Share and Spread the love

इसी साल मार्च महीने में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बगावत करते हुए भाजपा का दामन थाम लिया था. अब राजस्थान में सचिन पायलट ने बगावत करदी है. इन दोनों ही नेताओं की हिंदी पट्टी के राज्यों में काफी लोकप्रियता है. इन्हें पार्टी की किस्मत बदलने वाले नेता की तौर पर भी देखा जा रहा था.
ज्योतिरादित्य सिंधिया और सचिन पायलट दोनों ही पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बेहद करीबी रहे हैं. लेकिन इनकी बगावत के बाद ऐसा माहौल बना है कि एक सवाल खड़ा हो गया है कि अब आखिर अगला कौन है?
कांग्रेस कार्यसमिति के एक सदस्य ने नाम नहीं दिए जाने के आग्रह पर पीटीआई से कहा कि हम सोचने पर मजबूर हुए हैं कि जब ऐसे नेता, जिन्हें कम समय में काफी जिम्मेदारी दी गयी और जिनकी प्रतिभा का उपयोग पार्टी अपनी भविष्य की रणनीति के लिए करने को लेकर आश्वस्त थी, वे भी अगर संतुष्ट नहीं हैं तो कहीं न कहीं गड़बड़ तो है.
सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया पार्टी में राहुल ब्रिगेड के सदस्य के तौर पर जाने जाते रहे हैं. इस ब्रिगेड के अन्य नेताओं में पार्टी की हरियाणा इकाई के पूर्व अध्यक्ष अशोक तंवर, मध्य प्रदेश इकाई के पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव, मुंबई इकाई के पूर्व प्रमुख मिलिंद देवड़ा एवं संजय निरुपम, पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष प्रताप सिंह बाजवा, झारखण्ड इकाई के पूर्व अध्यक्ष अजय कुमार और कर्णाटक इकाई के पूर्व अध्यक्ष दिनेश गुंडूराव जैसे नाम हैं.
कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता का कहना है कि जो नेता कांग्रेस में बहुत कुछ पाने के बाद आज पार्टी के खिलाफ जा रहे हैं वे अपने साथ धोखा कर रहे हैं. यह समझना होगा कि इस वक्त पार्टी से मांगने का नहीं, बल्कि देने का समय है.
कुछ नेताओं का आरोप है कि जिन नेताओं को जिम्मेदारी सौंपी गयी वे खरे नहीं उतरे. पार्टी में गुटबाजी को प्रोत्साहित किया. हालांकि हरियाणा कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष अशोक तंवर कहते हैं कि इस बात में कोई दम नहीं है कि राहुल गांधी ने जन्हें जिम्मेदारी दी वे उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे.
The post सिंधिया-पायलट की बगावत के बाद अब कौन छोड़ने वाला है कांग्रेस? appeared first on AKHBAAR TIMES.