वसुंधरा राजे की हालत बीजेपी में क्या ‘पायलट’ की तरह हो गयी? ख़ामोशी पर उठे सवाल

Share and Spread the love

राजस्थान में जहां सियासी संग्राम छिड़ा हुआ है तो वहीं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की ख़ामोशी ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं. राज्य में जारी सियासी घटनाक्रम पर उनकी कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आई है. इस बीच उनका सिर्फ एक छोटा सा ट्वीट आया. जिसमें उन्होंने कहा कि राज्य की जनता त्रस्त है. इसके अलावा उन्होंने कुछ नहीं कहा.
हाल ही में भाजपा की सहयोगी पार्टी रालोप ने वसुंधरा राजे पर कांग्रेस की गहलोत सरकार बचाने का भी आरोप लगाया था. सांसद हनुमान बेनीवाल ने कहा था कि उनके पास सबूत भी हैं.
वहीं कांग्रेस नेता कह रहे हैं कि वसुंधरा राजे जैसी कद्दावर नेता को दरकिनार कर दिया गया है. उन्हें पूछा नहीं जा रहा है. लेकिन इस पर भी वसुंधरा राजे चुप हैं, वह इन बयानों पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दे रही हैं.
राजस्थान हाईकोर्ट ने कंटेंट ऑर्डर जारी किया है कि आखिर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी पूर्व मुख्यमंत्री का बंगला क्यों नहीं खाली कराया जा रहा है? लेकिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस बात पर अड़े हैं कि वरिष्ठ विधायक के नाम पर बड़ा बंगला वसुंधरा राजे को देने का अधिकार मुझे है.
जब सचिन पायलट ने इसको लेकर सवाल उठाया था तो बीजेपी की ओर से इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई थी, बल्कि वसुंधरा राजे की ओर से दो विधायक कैलाश मेघवाल और प्रताप सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस की थी. उन्होंने कहा था कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वसुंधरा राजे को बंगला देकर सही काम किया है.
वहीं कैलाश मेघवाल ने हाल के सियासी उठापक पर कहा है कि जो कुछ राजस्थान में बीजेपी कर रही है वो ठीक नहीं है. अशोक गहलोत की सरकार अस्थिर नहीं करनी चाहिए.
The post वसुंधरा राजे की हालत बीजेपी में क्या ‘पायलट’ की तरह हो गयी? ख़ामोशी पर उठे सवाल appeared first on AKHBAAR TIMES.