विकास दुबे के भाई दीप प्रकाश ने घर पर भेजा लेटर, बताया अपना प्लान

Share and Spread the love

कानपुर प्रकरण के मुख्य आरोपी विकास दुबे के भाई दीप प्रकाश उर्फ़ दीपू की तलाश पुलिस कर रही है. वह अपने घर पर तीन दिन में चार चिट्ठियां भेज चुका है. वह लखनऊ में या आसपास ही कहीं छिपा है. ये चिट्ठी लखनऊ से ही पोस्ट की गयी हैं. लेटर की जानकारी होते ही कृष्णानगर स्थित दीप प्रकाश के घर एसटीएफ की टीम पहुंची और उसकी पत्नी से पूछताछ की.
लेटर में दीप प्रकाश ने लिखा कि वह सकुशल है और जल्द ही अदालत में हाजिर हो जाएगा. दीप प्रकाश के खिलाफ कृष्णानगर कोतवाली में सरकारी गाडी नीलामी में लेने वाले को धमका कर गाड़ी ले जाने का मुकदमा दर्ज है.
कृष्णानगर पुलिस ने दीप को वांटेड घोषित कर दिया है. बिकरू प्रकरण के बाद सामने आया था कि विकास दुबे का कृष्णानगर की इंद्रलोक कॉलोनी में घर है और इससे कुछ ही दूरी पर उसके छोटे भाई दीप प्रकाश का घर है. दीप के घर में उसकी पत्नी अंजली और उसका बेटा व मां मिली थी.
घर में विशेष सचिव, राज्य सम्पति विभाग के नाम से रजिस्टर्ड एम्बेसडर कार भी खड़ी मिली थी. यह कार नीलामी में वृन्दावन निवासी विनीत पाण्डेय ने ली थी. कार बरामद होने के बाद पांच जुलाई को विनीत ने एफआईआर लिखवायी थी कि विकास और उसके भाई ने कार देने के लिए धमकाया था. जिसके बाद डर के कारण कार दे दी थी. इस एफआईआर के बाद कृष्णानगर पुलिस ने दीप की तलाश शुरू कर दी थी. उसपर 20 हजार का इनाम भी घोषित किया जा चुका है.
The post विकास दुबे के भाई दीप प्रकाश ने घर पर भेजा लेटर, बताया अपना प्लान appeared first on AKHBAAR TIMES.