सोशल मीडिया पर नफरत फैलाने का असल अपराधी भारतीय मीडिया, इसपर लगे प्रतिबंधः गल्फ न्यूज

Share and Spread the love

भारतीय मीडिया चैनलों की हालत किसी से छुपी नहीं है. दुनियाभर में भारतीय मीडिया अब सवालों के घेरे में है. हालत ये है कि भारत में ही मीडिया के एक धड़े को अब गोदी कहकर संबोधित किया जाने लगा है.
भारतीय मीडिया अपने साथ-साथ देश की छवि को भी दुनियाभर में खराब कर रहा है. इसका जीता जागता उदाहरण है गल्फ न्यूज में लिखा ये संपादकीय लेख.
गल्फ न्यूज के संपादकीय में कहा गया है कि सोशल मीडिया पर जो लोग दूसरे धर्म के खिलाफ अपमानजनक सामग्री पोस्ट कर रहे हैं इसका असली अपराधी भारतीय मीडिया है. विशेषकर कुछ समाचार चैनल जो भारत में मुसलमानों के खिलाफ नफरत वाली खबरों को खाड़ी देशों तक फैला रहे हैं.

कुछ लोकप्रिय न्यूज चैनल समाचारों को तोड़ मरोड़ कर मुसलमानों को बदनाम करने के लिए पेश कर रहे हैं. उन्हें निशाना बनाने के लिए कोरोना वायरस फैलाने, फलों, सब्जियों पर थूक देने जैसी फर्जी खबरें गढ़ी जा रही हैं. इन समाचारों को तब तक परोसा जाता है जबतक लोग इन्हें सच न मान लें. इसका असर ये हो रहा है कि भारत के कई इलाकों में लोग मुस्लिमों का बहिष्कार कर रहे हैं.
उन्हें अपने इलाके में घुसने पर रोक लगा रहे हैं. प्राइम टाइम में प्रसारित यह घृणित सामग्री यूएई सहित उन खाड़ी देशों तक भी पहुंच रही है जहां ये चैनल उपलब्ध हैं.
संपादकीय में लिखा गया है कि ऐसे न्यूज चैनलों को खाड़ी देशों के सामाजिक माहौल को खराब करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए. यहां पर विविध जातीय और धार्मिक पृष्ठभूमि काम करती है और शांति से रहती है. बता दें कि हाल में ही कुछ न्यूज चैनलों ने तमाम ऐसी फर्जी खबरें चलाई जिसका बाद में पुलिस ने खुलासा किया.

Stop Indian media from exporting hate to Gulf https://t.co/P5th5dSxMo
— Gulf News (@gulf_news) May 6, 2020

The post सोशल मीडिया पर नफरत फैलाने का असल अपराधी भारतीय मीडिया, इसपर लगे प्रतिबंधः गल्फ न्यूज appeared first on AKHBAAR TIMES.