2022 विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी मायावती, सवर्णों को लुभाने के लिए चला ये दांव

Share and Spread the love

बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती इन दिनों साल 2022 में होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव के लिए नए सिरे से रणनीति बनाने में जुटी हुई हैं. आगामी चुनाव के मद्देनजर उन्होंने अभी से संगठन में बदलाव लाने के काम शुरू कर दिया है.
मायावती की निगाहें सवर्णों और अल्पसंख्यक वोट बैंक पर हैं. इसी रणनीति के तहत उन्होंने संगठन में सवर्ण और अल्पसंख्यक जाति के नेताओं और कार्यकर्ताओं को अहम जिम्मेदारी देना शुरू कर दी है.
मायावती ने बड़ा फैसला लेते हुए बसपा की सभी भाईचारा कमेटियों को भंग करके उनमें शामिल लोगों ब्राह्मण, क्षत्रिय, पिछड़े और मुस्लिम नेताओं को मूल संगठन में जगह दी है. इससे पहले बसपा के मूल संगठन में अधिकांश तौर पर दलित नेताओं को जिम्मेदारी दी जाती रही है.

माना जा रहा है कि मायावती अब सिर्फ दलित वोटों पर भरोसा करने के बजाए सभी वर्ग को साधने में जुट गई हैं. बता दें कि बीते कई चुनावों में बसपा का ग्राफ लगातार गिर रहा है. 2014 लोकसभा चुनाव में तो बसपा का खाता भी नहीं खुला था. 2017 यूपी विधानसभा चुनाव में बसपा का प्रदर्शन काफी खराब रहा.
2019 लोकसभा चुनाव में सपा के गठबंधन की वजह से उन्हें 10 सीटें मिली थी. अब उनकी निगाह 2022 यूपी विधानसभा चुनाव पर है. बीते कुछ समय से उनकी बीजेपी से बढ़ रही नजदीकी भी चर्चा का विषय बनी हुई है. वो कई ऐसे बयान दे चुकी हैं जिससे बीजेपी को फायदा मिला. कांग्रेस पर वो लगातार निशाना साध रही हैं.
The post 2022 विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी मायावती, सवर्णों को लुभाने के लिए चला ये दांव appeared first on AKHBAAR TIMES.