IAS रानी नागर का इस्तीफ़ा नामंजूर, रानी ने लोगों से की थी ये अपील?

Share and Spread the love

हरियाणा कैडर की महिला आईएएस रानी नागर ने 4 मई को चंडीगढ़ में कर्फ्यू हटते ही आईएएस पद से इस्तीफ़ा दे दिया था, लेकिन हरियाणा सरकार ने उनका इस्तीफ़ा नामंजूर कर दिया है. रानी नागर इस्तीफ़ा देने के बाद अपने पैतृक निवास उत्तर प्रदेश गाजियाबाद लौट आई थीं. यह जानकारी उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए दी थी.
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने न सिर्फ इस्तीफे को नामंजूर किया बल्कि रानी का आईएएस कैडर उनके गृह राज्य उत्तर प्रदेश में बदलने की सिफारिश भी केंद्र सरकार से की है.
वहीं इस्तीफ़ा देने के बाद रानी नागर ने सोशल मीडिया पर एक बड़ा खुलासा किया. उन्होंने बताया कि चंडीगढ़ के यूटी गेस्ट हाउस में उन्हें खाने में लोहे की पिन तक को परोसा गया था. रानी के इस्तीफे के अस्वीकार करने की जानकारी केन्द्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने ट्वीट कर साझा की.
गुरुवार को रानी नागर ने अपने एक पोस्ट में लिखा कि सभी से हाथ जोडकर सादर विनती है मेरा इस्तीफ़ा स्वीकार न किए जाने को लेकर आग्रह व आन्दोलन न करें. मुझे न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है. उन्होंने कहा कि अपने केस में न्यायपालिका में जाती रहूंगी. मेरे पास अभी रोटी खाने के लिए सीमित साधन हैं.
उन्होंने कहा कि मेरी विनती है कि जितनी जल्दी मेरा इस्तीफ़ा स्वीकार होगा, उतनी जल्दी तनख्वाह में से कटा हुआ एनपीएस फंड प्राप्त होगा, जिससे अपना रोटी का खर्चा चला पाउंगी. इस दौरान उन्होंने ये भी कहा कि इस्तीफ़ा स्वीकार न होने से मेरा और अधिक शोषण होगा. आगे सरकारी नौकरी कर पाना मेरे लिए संभव नहीं है.
ट्वीटर पर रानी ने ये भी बताया कि वह जिस गेस्ट हाउस के कमरे में ठहरी थीं. उसके रूम का दरवाजा कुछ दिन पहले तोड़ दिया गया था. जिसके सुधार के लिए उन्होंने पत्र लिखा था लेकिन वह उनके इस्तीफ़ा देने के बाद रूम छोड़ने तक सही नहीं हुआ था. उन्होंने बताया कि टूटे हुए दरवाजे से कमरे के अंदर देखना आसान था, व किसी भी प्रकार की वीडियोग्राफी की जा सकती थी.
The post IAS रानी नागर का इस्तीफ़ा नामंजूर, रानी ने लोगों से की थी ये अपील? appeared first on AKHBAAR TIMES.