गरीबों को तुरंत पैसा दे और लॉकडाउन खोलने की नीति जनता को बताए सरकारः राहुल गांधी

Share and Spread the love

कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने कोरोना संकट के दौरान एक बार फिर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए मीडिया से बातचीत की और कहा कि अब समय आ गया है कि सरकार लॉकडाउन से बाहर निकलने की नीति देश की जनता को बताए और गरीबों को आर्थिक सहायता मुहैया कराए.
राहुल गांधी ने कहा कि हम सरकार को अपने कुछ सुझावों के बारे में पार्टी में आंतरिक चर्चा कर रहे हैं. मैं सरकार की मदद करने के इरादे से कुछ विचार आपके साथ साझा करना चाहता हूं. कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से राज्यों में स्थिति को लेकर मनमोहन सिंह जी, सोनिया गांधी जी और मेरी बात हुई है. उन्होंने विकेंद्रीकरण पर जोर दिया है. इसके अलावा हर राज्य में अलग मसले हैं.
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को मुख्यमंत्रियों और मुख्यमंत्रियों को कलेक्टर्स पर भरोसा करना ही होगा. अगर हम इसे केंद्रीकृत करते हैं, तो दिक्कत होगी. आज स्थिति सामान्य नहीं है. इसमें सामान्य समाधान नहीं निकलने वाला है. अगर हम विकेंद्रीकरण करके इस लड़ाई को जिला स्तर तक ले जाएं, तो समाधान निकल सकता है। अगर हम इस लड़ाई को PMO तक रखेंगे, तो हारने की संभावना है.

कांग्रेस नेता ने कहा कि हम एक आपात स्थिति में हैं, हमें पूरी तरह से NYAY के विचार की आवश्यकता है, हमें तुरंत भारत के 50% सबसे गरीबों को 7500 देने की आवश्यकता है, यह महत्वपूर्ण है और यह इतना बड़ा प्रश्न नहीं है. पैसे की जरूरत आज है. प्रवासी मजदूरों, गरीबों, MSMEs को आज मदद की जरूरत है. ऐसा न होने पर बेरोजगारी की सुनामी आ जाएगी. इसके लिए रणनीति की जरूरत है. हम मदद करने के लिए तैयार हैं. हमारे पास इसकी समझ रखने वाले काफी लोग हैं.
राहुल गांधी ने कहा कि यह आलोचना का समय नहीं है और मैं आलोचना नहीं करूंगा. हमें अब इस स्थिति से निकलना है. आप किसी भी बिजनेस वाले से बात कीजिए, वो बताएंगे कि हेल्थकेअर सिस्टम और आर्थिक सप्लाई चैन में टकराव है. इन दोनों का समाधान आवश्यक है. हम सरकार को अपने कुछ सुझावों के बारे में पार्टी में आंतरिक चर्चा कर रहे हैं। मैं सरकार की मदद करने के इरादे से कुछ विचार आपके साथ साझा करना चाहता हूं.
The post गरीबों को तुरंत पैसा दे और लॉकडाउन खोलने की नीति जनता को बताए सरकारः राहुल गांधी appeared first on AKHBAAR TIMES.