अखिलेश का बड़ा आरोप, कहा नई शिक्षा नीति की आड़ में लागू किया जा रहा है आरएसएस का एजेंडा

Share and Spread the love

IMAGE CREDIT-SOCIAL MEDIAसमाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक बार फिर भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र और प्रदेश दोनों ही सरकारें नाम बदलकर विशेषज्ञता हासिल करने में ही खुश हैं, उन्हें काम करने की कोई जरूरत ही नहीं है. नाम बदलने में भी उनकी कोई मौलिकता नहीं दिखती है.
अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में तो भाजपा ने अब तक अपनी एक भी योजना नहीं लागू की, समाजवादी सरकार की योजनाओं पर ही अपना नाम चस्पा कर खुद की वाहवाही कर लेती है लेकिन भाजपा नेतृत्व के इस छल प्रपंच को जन साधारण के साथ भाजपा विधायक और सांसद भी जान गए हैं और वे भी अब विरोध में आवाज उठाने लगे हैं.

उन्होंने कहा कि जो सरकार सामाजिक समरसता एवं सद्भाव के सांस्कृतिक मूल्यों एवं संविधान के सिद्धांतों को निरंतर नष्ट कर रही हैं और उनसे स्वयं कोई शिक्षा नहीं ले रही है, वह शिक्षा नीति में कोई भी बदलाव कर ले या मंत्रालय का नाम बदल ले उससे कुछ होने वाला नहीं है. भाजपा बच्चों के भविष्य का राजनीतिकरण न करे. शिक्षा-व्यवस्था ऐसी हो, जिसमें उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ न हो.
अखिलेश यादव ने कहा कि भारत सरकार की नई शिक्षा नीति के पीछे उद्देश्य आरएसएस के एजेंडा को लागू करना है. इस एजेंडा के मुताबिक नई पीढ़ी को ढालने की कोशिश में अब पाठ्यक्रम को भी एक विशेष रंग में प्रस्तुत किया जाएगा. उत्तर प्रदेश में तो पूरी शैक्षिक व्यवस्था ही गड़बड़ है. यहां शैक्षिक समय सारिणी तक का पालन नहीं हो पा रहा है.
The post अखिलेश का बड़ा आरोप, कहा नई शिक्षा नीति की आड़ में लागू किया जा रहा है आरएसएस का एजेंडा appeared first on AKHBAAR TIMES.