लखनऊ महापौर संयुक्ता भाटिया ने पत्र लिखकर जताई भ्रष्टाचार की आशंका, तो अखिलेश बोले अपने ही खोल रहे पोल, अब तो..

Share and Spread the love

लखनऊ नगर निगम की महापौर संयुक्ता भाटिया के ओर से पत्र लिखकर घोटाले का जिक्र किया, तो उनके पत्र को लेकर विपक्षी पार्टियों ने राज्य की योगी सरकार पर निशाना साधना चालू कर दिया है.
संयुक्ता भाटिया की ओर से लिखे पत्र में कहा गया है कि जहां विश्व भर में फैली कोरोना महामारी के बीच एक तरफ जहां नगर निगम परिवार द्धारा लखनऊवासियों की सुरक्षा एवं भोजन वितरण हेतु अभूतपूर्व कार्य किया जा रहा है तो वहीं दूसरी ओर कुछ कर्मचारी ऐसे भी हैं महामारी के दौरान घपला कर हमारे अच्छे प्रयासों पर पानी फेरने का काम कर रहे हैं.

कहा कि जानकारी में आया है कि हाटस्पाट क्षेत्रों में 50 एम.एल सैनिटाइजर बांटने के लिए लभगग 2 रुपये प्रतिशीशी की दर से मिलने वाली लगभग 10 हजार खाली शीशियों को 2 रुपये की दर से खरीदा गया. ऐसे कठिन में ऐसी सूचना अत्यंत दुखद एवं दुर्भाग्यपूर्ण है. इसी प्रकार मास्क व अन्य जरुरी चीजों में भी गड़बड़ी की जानकारी मिल रही है.
कहा कि इन कृत्यों के कारण ही नगर निगम के अंतर्रगत काम करने वाले अधिकारियों की भी छवि खराब हो रही है. कहा कि इस प्रकरण की 24 घंटे में जांच कराकर जो भी दोषी पाए जाएं उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए.
समाजवादी पार्टी के ओर से भी इस मामले में ट्वीट किया गया जिसमें लिखा गया है कि आगरा के बाद लखनऊ नगर निगम में बड़ा घोटाला, कोरोना हाटस्पाट क्षेत्र में 2 रुपये में मिलने वाली सैनिटाइजर की खाली शीशी को 10 रुपये में खरीदा गया. अपने ही खोल रहें भ्रष्चार की पोल, अब तो कार्रवाई करे सरकार.

 
The post लखनऊ महापौर संयुक्ता भाटिया ने पत्र लिखकर जताई भ्रष्टाचार की आशंका, तो अखिलेश बोले अपने ही खोल रहे पोल, अब तो.. appeared first on AKHBAAR TIMES.