दिग्विजय सिंह बोले- राजीव गांधी भी चाहते थे राम मंदिर बने, लेकिन 5 अगस्त शिलान्यास का मुहूर्त नहीं

Share and Spread the love

राज्यसभा सांसद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने राम मंदिर के शिलान्यास की तारीख को लेकर सवाल खड़े किए हैं. मंदिर निर्माण के लिए शिलान्यास का कार्यक्रम 5 अगस्त को है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल होंगे. एमपी के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय ने कहा है कि 5 अगस्त शिलान्यास के लिए शुभ मुहूर्त नहीं है.
दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा कि हमारी आस्था के केंद्र भगवान राम ही हैं. आज समूचा देश भी राम भरोसे ही चल रहा है. इसलिए हम सबकी आकांक्षा है कि जल्द से जल्द एक भव्य मंदिर अयोध्या राम जन्म भूमि पर बने और राम लला वहां विराजें. स्व. राजीव गांधी जी भी यही चाहते थे.

हमारी आस्था के केंद्र भगवान राम ही हैं! और आज समूचा देश भी राम भरोसे ही चल रहा है। इसीलिए हम सबकी आकांक्षा है कि जल्द से जल्द एक भव्य मंदिर अयोध्या राम जन्म भूमि पर बने और राम लला वहां विराजें। स्व. राजीव गांधी जी भी यही चाहते थे।
— digvijaya singh (@digvijaya_28) August 1, 2020

आगे उन्होंने कहा कि रही बात मुहूर्त की, तो देश में 90 प्रतिशत से भी ज्यादा हिन्दू ऐसे होंगे जो मुहूर्त, ग्रह, दशा, ज्योतिष, चौघड़िया आदि धार्मिक विज्ञानं मानते हैं. मैं तटस्थ हूं. इस बात पर कि 5 अगस्त को शिलान्यास का कोई मुहूर्त नहीं है, ये सीधे-सीधे धार्मिक भावनाओं और मान्यताओं से खिलवाड़ है.
इससे पहले मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने राम मंदिर निर्माण का स्वागत किया. उन्होंने कहा कि देशवासियों को इसकी बहुत दिनों से अपेक्षा और आकांक्षा थी.
The post दिग्विजय सिंह बोले- राजीव गांधी भी चाहते थे राम मंदिर बने, लेकिन 5 अगस्त शिलान्यास का मुहूर्त नहीं appeared first on AKHBAAR TIMES.