युवा चेतना के इस अभियान के समर्थन में सपा के बाद आए कांग्रेस के कई दिग्गज नेता, उठाई ये मांग

Share and Spread the love

उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में गंगा नदी के किनारे बसे दर्जनों गांवों को बाढ़ से बचाने के लिए युवा चेतना ने केंद्र सरकार से यहां पर बांध बनवाने को लेकर एक अभियान छेड़ रखा है. इस अभियान में अब उन्हें समाजवादी पार्टी के बाद कांग्रेस के कई बड़े नेताओं का भी समर्थन मिलना शुरू हो गया है.
कांग्रेस के दिग्गज नेता और प्रवक्ता संजय झा ने यूपी प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू से इस मुद्दे पर समर्थन करने और युवा चेतना प्रमुख रोहित सिंह से बातचीत करने और हर संभव मदद करने को कहा है.
कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद पीएल पुनिया ने भी रोहित सिंह की इस मांग का जोरदार तरीके से समर्थन किया है और अविलंब बांध निर्माण की मांग उठाई है. उन्होंने कहा कि सरकार को इस ओर ध्यान देना चाहिए.
कांग्रेस के दिग्गज नेता नदीम जावेद ने भी रोहित सिंह का समर्थन करते हुए कहा है कि उज्ज्वला गैस योजना की शुरुआत नरेंद्र मोदी जी ने बलिया के हैबतपुर गाँव से 1 मई,2016 को की थी. मोदी जी इस गाँव में दो बार आ चुके हैं. आज यह गाँव गंगा नदी में विलीन होने की स्थिति में है. सरकार को तुरंत बांध बनवाना चाहिए क्योंकि बरसात में बाढ़ की वजह से गाँव का अस्तित्व के ख़तरे में है. कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल ने युवा चेतना की इस मुहिम का समर्थन किया है.

इससे पहले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव पूर्व कैबिनेट मंत्री प्रोफेसर अभिषेक मिश्रा ने रोहित सिंह के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा कि ये वही गांव है जहां पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो बार आ चुके हैं. साल 2016 में बलिया के इसी गांव से पीएम ने उज्जवला योजना की शुरूआत की थी. इस क्षेत्र के हित में तुरंत कार्यवाही हो.
उन्होंने कहा कि पूर्वांचल की जनता से ये अपील करता हूं कि आने वाले चुनाव में अखिलेश यादव की सरकार बनाएं. समाजवादी पार्टी काम करेगी, डबल-ट्रिपल इंजन वालों से नहीं होगा, निजाम बदलें, व्यवस्था बदलें.
बता दें कि युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह ने उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में गंगा नदी के किनारे बसे दर्जनों गांवों को बाढ़ के प्रकोप से बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर बांध निर्माण कराने की मांग उठाई है.
रोहित सिंह ने कहा कि मानसून आने वाला है, अगर गंगा नदी में बाढ़ आ गई तो बलिया के हैबतपुर, मुबारकपुर, नसीराबाद, मालदेपुर, खोड़ी-पाकड़, दरामपुर, सरफुद्दीनपुर, रामपुर, महावल सहित लगभग दर्जनभर गांव गंगा नदी की कटान की वजह से अपना अस्तित्व खो देंगे.

@AjayLalluINC Ji, This appears to be an important issue and we must look into it. Rohit just called me. Please do look into it. @INCUttarPradesh https://t.co/6kJi6lP1Bl
— Sanjay Jha (@JhaSanjay) May 7, 2020

प्रधानमंत्री @narendramodi जी आपने बलिया के हैबतपुर गाँव से 1 मई,2016 को उज्ज्वला गैस योजना का शुभारंभ स्वयं किया था आज यह गाँव दर्जन भर गाँवों के साथ गंगा नदी के कटान से बुड़ी तरह प्रभावित है अगर अविलंब बांध निर्माण नही शुरू कराया गया तो स्थिति भयावह हो जाएगी।@yadavakhilesh pic.twitter.com/4W45qEzQgR
— Rohit Kumar Singh (@iRohitKrSingh) May 4, 2020

उज्ज्वला गैस योजना की शुरुआत,नरेंद्र मोदी जी ने,बलिया के हैबतपुर गाँव से 1 मई,2016 को की थी।मोदी जी इस गाँव में दो बार आ चुके हैं।आज यह गाँव गंगा नदी में विलीन होने की स्थिति में है।सरकार को तुरंत बांध बनवाना चाहिए क्योंकि,बरसात में बाढ़ की वजह से गाँव का अस्तित्व के ख़तरे में है https://t.co/2pV3uQnkyd
— Nadeem Javed (@nadeeminc) May 7, 2020

The post युवा चेतना के इस अभियान के समर्थन में सपा के बाद आए कांग्रेस के कई दिग्गज नेता, उठाई ये मांग appeared first on AKHBAAR TIMES.