कोरोना काल में न तो सीमाएं सुरक्षित हैं और न ही कारोबार, अर्थव्यवस्था भी बेहालः अखिलेश यादव

Share and Spread the love

IMAGE CREDIT-SOCIAL MEDIAसमाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि कोरोना काल में न तो देश की सीमाएं सुरक्षित हैं और न ही रोजगार व कारोबार, अर्थव्यवस्था में भी गिरावट दर्ज की जा रही है. जमा पर ब्याज घट रहा है, लोग पीएफ से पैसा निकालने को मजबूर हैं.
अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार की गलत नीतियों के चलते जनता मानसिक रूप से नाउम्मीदी की शिकार होती जा रही है. मुख्यमंत्री योगी प्रदेश में रामराज्य की बातें करते हैं जबकि हकीकत में राज्य में जंगलराज के बदतर हालात हैं.

उन्होंने कहा कि अब तो सत्तारूढ़ दल भाजपा के विधायक के नाम से भी फोन पर 5 लाख रूपए की रंगदारी मांगे जाने की खब़र है. जिला मंत्री का नाम अपहरण काण्ड में गूंजता है. भाजपा नेता अनैतिक व्यापार में लगे दिखाई देते हैं. पार्टी विद डिफरेंस का इससे बदतर उदाहरण और क्या हो सकता है?
अखिलेश ने कहा कैसी अजीब बात है कि सत्ता में बैठे सब एक दूसरे को चोर बता रहे हैं. हरदोई सांसद कहते है उनका वेंटीलेटर के लिए दिया गया पैसा गायब हो गया है. उन्नाव में पुलिस भाजपा विधायक को अवैध कब्जा करने वाले का साथी बता रही है. भाजपा राज में संरक्षित अपराधियों के हौसले बुलन्द हैं. भ्रष्टाचार का माडल चर्चा में है.
The post कोरोना काल में न तो सीमाएं सुरक्षित हैं और न ही कारोबार, अर्थव्यवस्था भी बेहालः अखिलेश यादव appeared first on AKHBAAR TIMES.