राहुल गांधी बोले, भगवान राम प्रेम हैं वो कभी घृणा, क्रूरता और अन्याय में प्रकट नहीं होते

Share and Spread the love

कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज राम मंदिर शिलान्यास के मौके पर भगवान राम का जिक्र करते हुए कहा कि वो मानवीय गुणों का स्वरूप हैं, वो हमारे मन की गहराइयों में बसी मानवता की मूल भावना हैं.
राहुल गांधी ने कहा कि राम प्रेम हैं, वे कभी घृणा में प्रकट नहीं हो सकते. राम करुणा हैं, वे कभी क्रूरता में प्रकट नहीं हो सकते. राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकते. उन्होंने कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम सर्वोत्तम मानवीय गुणों का स्वरूप हैं. वे हमारे मन की गहराइयों में बसी मानवता की मूल भावना हैं.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कल राम मंदिर निर्माण को लेकर एक वक्तव्य जारी करते हुए कहा है कि भगवान राम सबके हैं. प्रियंका गांधी ने कहा कि सरलता, साहस, संयम, त्याग, वचनबद्धता, दीनबंधु राम नाम का सार है. राम सबमें हैं, राम सबके साथ हैं. भगवान राम और माता सीता के संदेश और उनकी कृपा के साथ रामलला के मंदिर के भूमिपूजन का कार्यक्रम राष्ट्रीय एकता, बंधुत्व और सांस्कृतिक समागम का अवसर बने.
बता दें कि राम मंदिर की पूजा संपन्न हो चुकी है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर की आधारशिला रख दी है. दोपहर 12 बजकर 44 मिनट के शुभ मुहूर्त पर चांदी की ईद रखी गई. कोरोना काल में हो रहे इस कार्यक्रम में बेहद ही खास लोग शामिल हुए. मंच पर पीएम मोदी के साथ यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, संघ प्रमुख मोहन भागवत और महंत नृत्य गोपाल दास मौजूद थे.
The post राहुल गांधी बोले, भगवान राम प्रेम हैं वो कभी घृणा, क्रूरता और अन्याय में प्रकट नहीं होते appeared first on AKHBAAR TIMES.